खाटू श्याम में नए साल पर भजन संध्या और आतिशबाजी पर प्रतिबंध

सीकर। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस और नए वेरिएंट ओमिक्रोन के बढ़ते खतरे के बीच देश में प्रतिबंध लगने फिर से शुरू हो गए है। इसी कड़ी में अब खाटू श्याम मंदिर में एक बार फिर से सख्ती लागू की गई है। जिसके चलते आगामी नव वर्ष पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से ही बाबा श्याम के दर्शन हो पाएंगे। साथ ही कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट आने पर ही मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा।

ALSO READ: Indore: महात्मा गाँधी का अपमान करने वाले कालीचरण का पुतला दहन

मन्दिर समिति ने 30 दिसंबर से 2 जनवरी के बीच खाटू श्याम मंदिर में एकत्र होने वाली दर्शनार्थियों की भीड़ की संभावना के चलते स्थानीय धर्मशालाओं, होटलों आदि को दिशा निर्देश दिए हैं। कहा गया है कि कोरोना की दोनों डोज़ लगे लोगों को ही ठहराया जाए। इसके अलावा धर्मशाला एवं होटलों आदि में भजन संध्या एवं आतिशबाजी पूर्ण रूप से प्रतिबंध रहेगा। साथ ही 30 दिसम्बर से 2 जनवरी तक रिंग्स मार्ग पर एकतरफा यातायात की व्यवस्था रहेगी।

गौरतलब है कि, देश में महामारी का खतरा एक बार फिर बढ़ रहा है। वहीं अब साल 2022 के आगमन को भी सिर्फ 2 दिन ही शेष है। इस दौरान वायरस के फैलने का खतरा और बढ़ रहा है। इसी कड़ी में राज्य सरकार ने अपनी कमर कंस ली है और कई प्रदेशों में नाईट कर्फ्यू लगा दिया गया है।