पिछड़ा वर्ग एक्टिविस्ट नीरज राठौर ने स्कालरशिप के लिए मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

प्रति
श्री शिवराज सिंह जी चौहान
माननीय मुख्यमंत्री
मध्य प्रदेश शासन
भोपाल, मध्य प्रदेश
विषय- मध्य प्रदेश में अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के पीएचडी शोधार्थियों को जिस तरह मध्य प्रदेश शासन द्वारा 15000 रू प्रति माह adhyavrati (फेलोशिप) प्रदान की जाती ठीक उसी तरह ओबीसी के समस्त पीएचडी शोधार्थियों को भी 10000 रुपए प्रति माह के आधार पर प्रदान की जाए।
माननीय मुख्यमंत्री जी,

मध्य प्रदेश में अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के पीएचडी शोधार्थियों को जिस तरह मध्य प्रदेश शासन द्वारा 15000 रू प्रति माह adhyavrati (फेलोशिप) प्रदान की जाती ठीक उसी तरह ओबीसी के समस्त पीएचडी शोधार्थियों को भी 10000 रुपए प्रति माह के आधार पर प्रदान की जाए। जैसा की आपको पता है की प्रदेश की कुल आबादी का 60 % से भी ज्यादा पिछड़ा वर्ग की आबादी है । प्रदेश के पिछड़े वर्ग के स्टूडेंट्स में रिसर्च / शोध करने के लिए 10,000 रूपये की स्कालरशिप देने से इस वर्ग के स्टूडेंट्स का मनोबल बढेगा एवं पिछड़ा वर्ग से वर्ल्ड क्लास स्कॉलर निकलेंगे ।
कृपया उपरोक्तानुसार पिछड़े वर्ग के स्टूडेंट्स को रिसर्च / शोध करने के लिए 10,000 रूपये की स्कालरशिप देने का आदेश जारी कराते हुए अवगत करावे ।

शुभकामनाओ सहित

नीरज कुमार राठौर
संभागीय अध्यक्ष
संयुक्त पिछड़ा वर्ग संघर्ष मोर्चा ,मध्य प्रदेश
नेशनल प्रेसिडेंट- गौतम बुध्ध एजुकेशन सोसाइटी
वोलिंटियर- इंटरनेशनल ह्यूमन राइट्स कमीशन- यूरोपियन यूनियन
पूर्व वोलिंटियर- संयुक्त राष्ट्र संघ, सेंट्रल इंग्लैंड