दुनियाभर में छाया अयोध्या का फैसला, विदेशी अख़बारों ने ऐसी की कवरेज

इस ऐतिहासिक फैसले पर देश ही नहीं बल्कि दुनियाभर की नजरें टिकी हुई थी। राजनीतिक और भारतीय इतिहास की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण इस फैसले को दुनियाभर के अखबारों ने प्रमुखता से जगह दी है।

0
107
ayodhya

लखनऊ: अयोध्या में सालों से चल रहे रामजन्मभूमि और बाबरी मस्जिद विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने 9 नवंबर को ऐतिहासिक फैसला सुना दिया है। इस ऐतिहासिक फैसले पर देश ही नहीं बल्कि दुनियाभर की नजरें टिकी हुई थी। राजनीतिक और भारतीय इतिहास की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण इस फैसले को दुनियाभर के अखबारों ने प्रमुखता से जगह दी है।

अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स ने ‘Court Backs Hindus on Ayodhya, Handing Modi Victory in His Bid to Remake India’ की हेडलाइन से विस्तार से खबर लिखी। न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपने आर्टिकल में लिखा है…

New york times

‘भारत की सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को एक काफी पुराने मामले में हिंदुओं के पक्ष में फैसला सुनाया है। इस विवादित स्थल पर मुस्लिमों के द्वारा दावा किया जा रहा था। ये फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके फॉलोवर्स के लिए देश को सेक्युलर नींव से हटाकर हिंदू बनाने की ओर बड़ी जीत है।’

वहीं एक और अमेरिकी अखबार वॉशिंगटन पोस्ट ने भी ‘India’s Supreme Court clears way for a Hindu temple at country’s most disputed religious site’ हैडलाइन से खबर लिखी है। अखबार ने लिखा.

The Washington Post

‘अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करना भारतीय जनता पार्टी और अन्य हिंदू राष्ट्रवादियों के लिए एक बड़ा लक्ष्य था। मई में चुनाव जीतने के बाद नरेंद्र मोदी अपना एजेंडा लागू करने में लग गए हैं। ये फैसला मुस्लिमों के तर्कों को दरकिनार करते हुए हिंदुओं को विवादित जमीन का अधिकार देता है, जो नरेंद्र मोदी के लिए एक बड़ी जीत है।’

पाकिस्तानी अखबार Dawn ने इस मामले में लिखा ‘India’s SC says temple to be built on disputed Ayodhya site, alternative land to be provided for mosque’.अख़बार ने लिखा कि भारत के सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को एक काफी पुराने मामले में विवादित जमीन को हिंदू पक्षकारों को देने का फैसला किया है। इसी स्थान पर 1992 में 16वीं शताब्दी की एक मस्जिद को हिंदुओं के द्वारा गिरा दिया गया था। वहीं अब मुस्लिमों को अलग से जमीन दी गई है।

Dawn

इसके अलावा ‘द गार्जियन या’ और अन्य विदेशी मीडिया ने भी अयोध्या के इस फैसले को प्रमुखता से जगह दी है और इसे नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारतीय जनता पार्टी के लिए जीत बताया है।

khaleej times

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here