18 हजार फीट ऊंचे सियाचिन ग्लेशियर में हिमस्खलन, दो सैनिक शहीद

0
150

दक्षिणी सियाचिन ग्लेशियर में लगभग 18,000 फीट की ऊंचाई पर शनिवार सुबह हिमस्खलन होने से सेना के दो जवान शहीद हो गए हैं। बताया जा रहा है कि जिस दौरान हिमस्खलन हुआ था उस समय जवान दक्षिणी ग्लेशियर में मौजूद थे। रेस्क्यू टीम ने गश्ती दल का पता लगाने के लिए हेलिकाॅप्टर की मदद ली। शहीद जवानों की पहचान लेह के गियाल्शन और नोर्गैस के रूप में हुई है।

बता दे कि इससे पहले 18 नवंबर को सियाचिन ग्लेशियर में भी हिमस्खलन हो गया था। जिसके चलते चार जवान शहीद हो गए थे जबकि दो पोर्टरों की मौत हो गई थी। मालूम हो सियाचिन ग्लेशियर दुनिया का सबसे ऊंचा युद्ध क्षेत्र माना जात है।

सियाचिन में वर्ष 1984 में भारतीय सेना को तैनात किया गया था। दरअसल, उस दौरान पाकिस्तान ने सियाचिन में कब्जे की कोशि की थी। इसके बाद से लगातार यहां जवानों तैनात रहते हैं। बताया जा रहा है कि सियाचिन में हिमस्खलन या प्रतिकूल मौसम के चलते हर महीने औसतन दो जवान शहीद हो जाते हैं। साल 1984 से लेकर अब तक 900 से अधिक जवान शहीद हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here