Home इंदौर न्यूज़ ऑटो रिक्शा चालक महासंघ: AAP नेताओं की ऐसी घनघोर बेईज्जती कभी नहीं...

ऑटो रिक्शा चालक महासंघ: AAP नेताओं की ऐसी घनघोर बेईज्जती कभी नहीं देखी होगी आपने

इंदौर में परिवहन विभाग ने ऑटो रिक्शा चालकों की मांग के बाद चालानी कार्रवाई की।

इंदौर में परिवहन विभाग ने ऑटो रिक्शा चालकों की मांग के बाद चालानी कार्रवाई की। ऑटो रिक्शा चालक महासंघ की ओर से अधिवक्ता राजेंद्र शर्मा ने कोर्ट नंबर 9 में अपने जिला न्यायालय के समक्ष अपना पक्ष रखते हुए कहा कि सभी ऑटो रिक्शा चालक जिनका रजिस्ट्रेशन आरटीओ ने किया है, उन्हें मिनिमम राशि का दंड देकर छोड़ दिया जाए, और साथ ही इसके लिए ऑटो रिक्शा ड्राइवर से शपथ पत्र भी लिखा लिया जाए कि एक माह के अंदर ऑटो रिक्शा के कागज कंप्लीट हो जाएंगे।

must read:आत्मघाती हमले से दहला रूस, कान्वेंट स्कूल के छात्र ने मठ को किया नेस्तनाबूत

इसके अलावा राजेंद्र शर्मा ने कहा कि इंदौर का परिवहन विभाग एक माह का समाधान शिविर आयोजित करें। जिसमें एक छत के नीचे कागजों को पूरा किया जा सके। और इधर परिवहन विभाग के वकील मीनाक्षी मैडम ने भी कोर्ट को आश्वासन दिया कि जल्द ही हम समाधान शिविर का आयोजन करेंगे। इस दौरान जिला कोर्ट में सैकड़ों की संख्या में ऑटो रिक्शा ड्राइवर मौजूद थे।

हालाँकि इस दौरान एक अजीब घटना भी हो गई। दरअसल, भीड़ को देखकर टोपी लगाए आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता जिला परिसर कोर्ट कार्यालय में घुस आए। एवं नारेबाजी करने लगे तब इंदौर ऑटो रिक्शा चालक महासंघ के कार्यकर्ताओं ने, AAP पार्टी कार्यकर्ताओं को उल्टे पैर भागने पर मजबूर कर दिया।

कार्यकर्ताओं ने आप पार्टी नेताओं को सीधे शब्दों में कह दिया कि हमारे नेता राजेश बीड कर है। और वो लड़ाई लड़ने के लिए सक्षम है। ऑटो रिक्शा चालक उन्हीं के आदेश को मानते हैं। हमें किसी की जरूरत नहीं है।

ऑटो रिक्शा चालक महासंघ के कार्यकर्ताओं ने, AAP पार्टी कार्यकर्ताओं को धमकी देकर कहा कि 10 मिनट के अंदर आप पार्टी के कार्यकर्ता कोर्ट परिसर के बाहर नहीं हुए तो हम गांधी हॉल पर अरविंद केजरीवाल का पुतला जलायेंगे। इसके बाद न चाहते हुए भी आप पार्टी के कार्यकर्ताओं को वापस लौटना पड़ा।