cropped-aadhar-card-2.jpg

भारत में आधार कार्ड सबसे जरूरी डॉक्यूमेंट्स में से एक है. देश में किसी भी छोटे से लेकर बड़े काम को निपटाने के लिए आधार कार्ड की आवश्यकता पड़ती ही है. देश में आधार कार्ड  सरकारी संस्था UIDAI यानी यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया जारी करती है. आधार कार्ड को बैंक में खाता खुलवाने के लिए, यात्रा के दौरान, स्कूल कॉलेज में एडमिशन कराने के लिए आदि सभी कामों के लिए यूज किया जाता है. ऐसे में यह बेहद महत्वपूर्ण आईडी  के रूप में इस्तेमाल किया जाता है.

बढ़ते फ्रॉड की वजह से बड़ी सिक्युरिटी

आधार के बढ़ते इस्तेमाल के साथ ही इससे संबंधित फ्रॉड के मामलों में भी तेजी से बढ़त दर्ज की गई है. ऐसे में UIDAI हर आधार में क्यूआर कोड भी UIDAI लगने लगा है. इससे आप असली और नकली आधार कार्ड  के बीच का फर्क कर सकते हैं. कई बार लोग आधार कार्ड के साथ छेड़छाड़ करते हैं क्योंकि उन्हें लगता हैं कि आधार कार्ड की असली पहचान के लिए केवल 12 अंक की जरूरत होती है, लेकिन ऐसा नहीं है.

बिना QR कोड से अटक जायेगा आपका काम

कई बार लोग आधार कार्ड को अच्छी तरह से संभालकर नहीं रखते हैं और उसे तोड़-मोड़ देते हैं. इस कारण बाद में जब उनके आधार कार्ड के क्यूआर कोड को स्कैन किया जाता है तो ऐसी स्थिति में इसे स्कैन करने में परेशानी होती है. इस कारण बाद में उनके जरूरी काम अटक जाते हैं. ऐसे में सबसे पहले कोशिश करें कि आप अपने आधार को तोड़मोड़ कर न रखें और आधार के बार कोड को सही तरीके से ध्यान रखें. इसके लिए आधार ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके जानकारी दी है और अगाह किया है कि आधार को स्कैन की आवश्यकता कभी भी पड़ सकती है.

 

क्यूआर कोड को कैसे रखें सुरक्षित

अपने क्यूआर कोड को सुरक्षित रखने के लिए आप आधार को लैमिनेट करवा कर रख सकते हैं. इससे आपका आधार कहां से मुड़ेगा नहीं, आपने आधार का काम हो जाने के बाद उसे संभालकर रखें. ध्यान रखें कि यह गलत हाथों में न लगे, आधार कार्ड को बच्चों की पहुंच से दूर रखें. कई बार बच्चे आधार कार्ड को फाड़ देते हैं. इसके बाद में क्यूआर कोड स्कैन करने में दिक्कत होती है,  इससे चूहों की पहुंच से दूर रखें. इससे वह आपको आधार कार्ड को नुकसान नहीं पहुंचा सके, आप चाहें तो ऑनलाइन ऑर्डर करके PVC आधार कार्ड मंगवा सकते हैं. इसे आप वॉलेट में अच्छी तरह से रख सकते हैं. इसे आप क्रेडिट कार्ड तरह स्टोर कर सकते हैं.