इंदौर। आयुक्त प्रतिभा पाल द्वारा आगामी माह में प्रस्तावित प्रवासी भारतीय सम्मेलन को दृष्टिगत रखते हुए शहर में किए जा रहे विकास कार्यों का लगातार निरीक्षण किया जा रहा है। इसके साथ ही आयुक्त प्रतिभा पाल द्वारा प्रवासी भारतीय सम्मेलन के तहत ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर में आयोजित मुख्य कार्यक्रम स्थल के पास लगाई जा रही डिजिटल एग्जीबिशन स्थल का भी निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान अपर आयुक्त श्री दिव्यांग सिंह आदि उपस्थित थे।

आयुक्त प्रतिभा पाल ने बताया कि प्रवासी भारतीय सम्मेलन के तहत लगाई जा रही है डिजिटल एग्जीबिशन में देश की आजादी के लिए देश के बाहर रहकर लड़ने वाले फ्रीडम फाइटर जैसे कि महात्मा गांधी, दादाभाई नौरोजी एवं फ्रीडम फाइटर तथा अन्य महापुरुषों की जानकारी, चित्र एलईडी स्क्रीन के माध्यम से तथा चलचित्र के माध्यम से कार्यक्रम में आने वाले अतिथियों के सामने प्रदर्शित की जाएगी। फ्रीडम फाइटर के जीवन के संबंध में ब्रोशर भी तैयार किए जा रहे हैं जिससे कि मेहमानों को फ्रीडम फाइटर के जीवन के संबंध में जानकारी मिल सके डिजिटल प्रदर्शनी के इस संबंध में आयुक्त प्रतिभा पाल द्वारा अप्पर आयुक्त दिव्यांक सिंह को डिजिटल एग्जीबिशन के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए गए।

इसी क्रम में आयुक्त द्वारा कार्यक्रम स्थल ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर, स्कीम नंबर 78 ए बी रोड सयाजी के सामने एवं सयाजी के पीछे स्थित मुक्तिधाम के पास क्षेत्रों का निरीक्षण किया गया निरीक्षण के दौरान अपर आयुक्त अभय राजनगांवकर, अधीक्षण यंत्री लक्ष्मीकांत बाजपेई, अशोक राठौड़ एवं अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Also Read : काबुल में मुंबई हमलें जैसा देखने को मिल रहा मंजर, होटल में गोलियों की बौछार के साथ धुंए का गुबार, खिड़कियों पर झुलते नजर आए लोग

आयुक्त प्रतिभा पाल द्वारा प्रवासी भारतीय सम्मेलन को दृष्टिगत रखते हुए कार्यक्रम स्थल ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर एवं आसपास के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों का निरीक्षण किया गया इसके पश्चात एबी रोड होते हुए स्कीम नंबर 781 सयाजी होटल के पीछे स्थित मुक्तिधाम के पास रोटरी का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान आयुक्त द्वारा सयाजी होटल के पीछे स्थित मुक्तिधाम के पास रोटरी को व्यवस्थित करने के साथ ही सड़क किनारे फुटपाथ पर लगे पेवर ब्लॉक को बदलने एवं डिवाइडर एवं ग्रीन बेल्ट पर आवश्यक पेड़ पौधे लगाने एवं संधारण कार्य करने के भी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए।