केंद्रीय उद्योग राज्य मंत्री को सौंपा गया 10 सूत्रीय ज्ञापन, एमएसएमई के संबंध में रखी गई मांग

आज व्यापारियों को एमएसएमई का सपना दिखाया जा रहा है किंतु उनके हाथ में कुछ नहीं है। वे समझ नहीं पा रहे हैं कि एमएसएमई विभाग का फायदा किस प्रकार से उठाया जाए। इसी परिपेक्ष में दोनों संस्थाओं के इंदौर एवं आसपास के जिलों के 30 से 35 व्यापारी एवं उद्योगपतियों ने मंत्री जी से मुलाकात की एवं विस्तृत रूप से चर्चा की ।

Indore: ग्लोबल फोरम फॉर इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट एवं भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के प्रतिनिधियों ने संयुक्त रुप से केंद्रीय मंत्री जी से मुलाकात की एवं ज्ञापन सौंपा। संस्था के अध्यक्ष दीपक भंडारी ने बताया कि सरकार घोषणा तो खूब करती है किंतु अमल में कुछ नहीं हो पाता।

आज व्यापारियों को एमएसएमई का सपना दिखाया जा रहा है किंतु उनके हाथ में कुछ नहीं है। वे समझ नहीं पा रहे हैं कि एमएसएमई विभाग का फायदा किस प्रकार से उठाया जाए। इसी परिपेक्ष में दोनों संस्थाओं के इंदौर एवं आसपास के जिलों के 30 से 35 व्यापारी एवं उद्योगपतियों ने मंत्री जी से मुलाकात की एवं विस्तृत रूप से चर्चा की। उन्होंने विभिन्न समस्याएं बताते हुए एमएसएमई एक्ट में 10 सूत्रीय संशोधन का ज्ञापन उन्हें सौंपा एवं तुरंत निराकरण की मांग।

दोनों संस्थाओं की ओर से विशेष रूप से मनीष बिसानी, देवराज चौधरी, देवलाल शर्मा, असीम जोशी, ध्रूमिल भंडारी, गुलशन जयसवाल, आनंद रायकवार, पवन चोरड़िया, मनोहर जैन, नरेश मुंद्रा, रविंद्र पुजारी, ललित जोशी ओम दुबे एवं अन्य सदस्य मौजूद रहे।