नाम बदलकर खेल रही ये टीम सितारा खिलाड़ियों के लौटने से वर्ल्ड कप में दे सकती है टक्कर

0
west indies

नई दिल्ली: आज हम बात करने जा रहे है विंडीज की टीम के बारे में। छोटे-छोटे द्वीप से मिल कर बनी ये टीम इस बार अपना नाम वेस्ट इंडीज से बदल कर विंडीज के नाम से खेल रही है। वर्ल्ड कप से पहले सितारा खिलाड़ियों के लौटने से इस टीम को अब कमजोर नही माना जा रहा है। विंडीज ने अपनी टीम में का ऐलान 25 अप्रैल को किया था। विंडीज ने जैसन होल्डर को कप्तान और निकोलस पूरन को अपना विकेट-कीपर घोषित किया है।

कुछ इस प्रकार है टीम

क्रिस गेल,एविन लेविस, डैरेन ब्रावो, शिमरॉन हेटमायर, एश्ले नर्स, फेबियन एलन, आंद्र रसेल, कार्लोस ब्रैथवेट, जैसन होल्डर(कप्तान), शाई होप, निकोलस पूरन(विकेट-कीपर), केमर रोच, ओशने थॉमस, गेब्रियल और शेल्डॉन कौट्रेल

टीम की मजबूतियां

टीम में सितारा खिलाड़ियों के लौटने से भी बाकि खिलाड़ियों का मनोबल बड़ा है। टीम के पास क्रिस गेले, अन्द्र रसल, कार्लोस ब्रैथवेट और शिमरॉन हेटमायर जैसे शानदार बल्लेबाज है जो किसी भी परिस्तिथी में बल्लेबाजी कर के टीम को जित दिला सकते है। इसके आलावा टीम के कप्तान जैसन होल्डर और गेब्रियल ने भी अपनी गेंदबाजी से काफी प्रभावित किया है।

टीम की कमजोरियां

विंडीज की टीम में कई आक्रामक बल्लेबाज है जिस कारण इस टीम को काफी परेशानियाँ झेलनी पड़ी है क्योंकि एक दिवसीय मैच में बल्लेबाज को संभलकर और डटकर खेलना होता है। परन्तु कई बार देखा गया है की टीम के बल्लेबाज बड़े शॉट खेलने के कारण कई बार अपना विकेट जल्दी खो देते है।