विजयदशमी पर विजय मंत्र

0
57
mohan_bhagwat

Vijay Mantra on Vijayadashmi

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डाॅ मोहनराव भागवत ने आज संघ के विजयदशमी उत्सव में संकेतों में भाजपा और मोदी सरकार को विजय मंत्र दे दिया। अब अगर भाजपा को 2019 में फिर सरकार बनानी है तो उसे इस मंत्र को ना केवल कंठस्थ करना होगा बल्कि इसके अनुसार बिना देर किए आगे भी बढ़ना होगा। यह मंत्र है – कानून बनाकर राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण।

संघ और उसके सरसंघचालकों के पास हमेशा से वर्तमान स्थिति का भरपूर आंकलन तो रहता ही है वह दूरदृष्टि और पक्का इरादा भी रखते हैं। राज्यों और केंद्र में भाजपा और राजग सरकारों को लेकर संघ के पास जमीनी फीडबैक है। हालात ना पहले की तरह बहुत बेहतर हैं और ना ही सामान्य लग रहे हैं। ऊपर से जातीय संगठन अलग मजबूत होते जा रहे हैं। इन संगठनों की मजबूती ने हिंदू समाज को फिर अगड़े-पिछड़े के चौखाने में खड़ा कर दिया है। इससे संघ की मेहनत और मदद से भाजपा के लिए 2014 के लोकसभा और उप्र के विधानसभा चुनाव में जो बड़ा वोट बैंक खड़ा हुआ था उसमें बड़ी सेंध लग सकती है।

गुजरात और कर्नाटक का विधानसभा चुनाव परिणाम ऐसे प्रारंभिक संकेत दे भी चुका है। तीन हिंदी भाषी राज्यों – मप्र, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में चुनावी रणभेरी बज चुकी है। वहां की जो जमीनी हकीकत संघ को पता चली है उसे लेकर भी वह चिंतित, सजग और सतर्क है। अपनी इस चिंता से वह भाजपा के आला नेताओं को अवगत करा चुका है। अगर इन तीन में से एक भी हिंदी भाषी राज्य भाजपा के पास से खिसक गया तो मिशन 2019 में भाजपा की दिक्कत बढ़ जाएगी।

ऐसे में संघ प्रमुख ने एकदम सही समय पर अपने मुख्यालय नागपुर से भाजपा को इशारों-इशारों में बहुत कुछ समझाया है। राम मंदिर के निर्माण की राह भी सुझाई है। संघ जानता है इस वक्त राम मंदिर का निर्माण ही हिंदू वोट बैंक का बिखराव रोक सकता है और मिशन 2019 के लिए भाजपा को मजबूती दे सकता है।

मुकेश तिवारी
([email protected])

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here