अमेरिकी रिपोर्ट का दावा- भारत में बड़े हमले की फिराक में लश्कर और जैश

इसी हफ्ते जारी अमेरिकी विदेश मंत्रायल रिपोर्ट में दावा किया गया है कि लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद में आतंकी हमले की योजना बना रहे हैं। साथ ही ये आतंकी केंद्रीय शासित क्षेत्र में अशांति फैलाने की फिराक में भी हैं।

0
51
terrorsit

नई दिल्ली। इसी हफ्ते जारी अमेरिकी विदेश मंत्रायल रिपोर्ट में दावा किया गया है कि लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद में आतंकी हमले की योजना बना रहे हैं। साथ ही ये आतंकी केंद्रीय शासित क्षेत्र में अशांति फैलाने की फिराक में भी हैं। रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि पाकिस्तान आतंकियों को मिलने वाले फंड पर अंकुश लगाने में भी असफल साबित हुआ है और आतंकियों को प्रशिक्षण, फंड देकर संगठित किया जा रहा है।

रिपोर्ट में कहा गया कि पाकिस्तान लगातार अफगान सरकार और तालिबान के बीच वार्ता को समर्थन देने का दावा करता रहा है। लेकिन मौजूदा समय में अपने देश में हक्कानी नेटवर्क जैसे खूंखार आतंकी संगठन को पनपने दे रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक लश्कर और जैश जैसे आतंकी संगठन पाकिस्तान में आतंकियों की भर्ती और ट्रेनिंग दे रहे हैं। आतंकियों के लिए फंड भी जुटाया जा रहा है। साथ ही जम्मू कश्मीर में सीमा पार से होने वाले हमलों के लिए भारत ने पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत अपनी सीमा में आतंकी संगठनों के अभियानों का पता लगाने और उन पर कार्रवाई करने के लिए पाकिस्तान पर दवाब डाल रहा है।

व्हाट्सऐप का उपयोग कर रहे आतंकी

खबरों की माने तो व्हाट्स एप का उपयोग आतंकियों की भर्ती के लिए किया जा रहा है। जिस पर गृह मंत्रालय ने चिंता जताई है। गृह मंत्रालय और सुरक्षा एजेंसियों द्वारा जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद बड़े पैमाने पर सुरक्षा-व्यवस्था बढ़ाई हुई है। अमेरिकी रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत के सरकार के अधिकारी इंटरनेट के उपयोग पर चिंतित हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here