आज होगी मुख्य प्राण प्रतिष्ठा, पितरेश्वर में विराजेंगे हनुमान

0
kailash vijayvargiya

इंदौर। पितृ पर्वत पर 14 फरवरी से चल रहे प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में आज यानी शुक्रवार को हनुमान प्रतिमा की मुख्य प्राण प्रतिष्ठा होगी। यहां 108 टन वजनी 72 फीट पितरेश्वर हनुमान विराजमान हैं, बुधवार को कैलाश विजयवर्गीय ने बताया कि यहां पीछे की तरफ मां अंजनी और बाल हनुमान की प्रतिमा भी स्थापित की जाएगी।

पितरेश्वर को 108 कलश औषधियों से महास्नान कराया जाएगा। 56 भोग भी अर्पित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि पितरेश्वर धाम पर भक्तों के लिए एक अन्नक्षेत्र भी स्थापित किया जाएगा। गाय के दूध और घी से शुद्ध प्रसाद भी तैयार किया जाएगा। इसके लिए प्रसाद काउंटर लगाया जाएगा। यह प्रसाद नाम मात्र के शुल्क पर भक्तों के लिए उपलब्ध रहेगा।

प्रेसवार्ता मे कैलाश ने बताया कि जलाधिवास, अन्नाधिवास, पुष्पाधिवास, फलाधिवास, गंधाधिवास, घृताधिवास, शैयाधिवास की शास्त्रोक्त वैदिक प्रक्रियाओं के बाद प्राण प्रतिष्ठा समारोह महामंडलेश्वर गुरुशरणानंद महाराज, साध्वी कनकेश्वरी देवी, स्वामी चिन्मयानंद महाराज, ब्रह्मऋषि उत्तम स्वामीजी की साक्षी में पूर्ण होगा।