हिंदू-मुस्लिम एकता की मिसाल बनेगा ये गौ अस्पताल, अत्याधुनिक उपकरण से होगी गायों की सेवा

विश्व स्तरीय उपकरणों से सुसज्जित इस गौ अस्पताल में गायों का विशेष ख्याल रखा जाएगा। हिन्दू और मुस्लिम मिलकर यहाँ गायों की सेवा करेंगे।

0
52
cow hospital

खंडवा। खंडवा के छैगांवमाखन में 6 करोड़ की लागत से गौ अस्पताल खुलने जा रहा है। यह अनोखा और अनूठा अस्पताल हिन्दू-मुस्लिम एकता और गंगा-जमुनी तहजीब का नायब उदाहरण है। विश्व स्तरीय उपकरणों से सुसज्जित इस गौ अस्पताल में गायों का विशेष ख्याल रखा जाएगा। हिन्दू और मुस्लिम मिलकर यहाँ गायों की सेवा करेंगे।

मंगलवार को अध्यात्म गौ सेवा मिशन ट्रस्ट एवं भागवत समिति के आयोजन में विशाल गौशाला व अत्याधुनिक उपकरण से युक्त गौ अस्पताल के मॉडल का अनावरण किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में ऋषिकेश एम्स के डायरेक्टर पद्मश्री प्रोफेसर रविकांत, वरिष्ठ समाजसेवी एवं गौभक्त मथुरा से एसके शर्मा व दक्षिण भारत से हीरालाल चौधरी पधारे थे।

cow hospital

कार्यक्रम में भगवान कृष्ण के भजनों पर हिन्दू ही नहीं कई बल्कि मुस्लिम भी खूब झूमे। यह सभी अध्यात्म गौ-सेवा ट्रस्ट से जुड़े गौ भक्त हैं और खंडवा में आयोजित भगावत कथा में शामिल होकर भगवान कृष्ण और उनके गौप्रेम की कथा का लाभ ले रहे हैं।

दरअसल गौ सेवा संस्थान द्वारा खंडवा जिले के छैगांवमाखन में गौ अस्पताल खोला जा रहा है। 14 एकड़ की जमीन पर संचालित होने वाले इस अस्पताल में गौ पालन के साथ-साथ बीमार गाय-बैलों का भी उपचार किया जाएगा। अध्यात्म सेवा संस्थान के प्रमुख पंकज शास्त्री जी ने कहा कि इस अनूठे अस्पताल को भक्तों के सहयोग से तैयार किया जाएगा जिसे 2020 तक तैयार कर विश्व स्तरीय उपकरणों से सुसज्जित किया जाएगा।

गौ अस्पताल के स्वरूप को लेकर उसके एक मॉडल का भक्तों के बीच अनावरण भी किया गया। जिसमें गौ पालन के साथ-साथ बूढी और बीमार हो चुकी गायों का ईलाज भी कराया जाएगा। इसके लिए एक से बढ़कर एक वेटनरी डॉक्टरों की सेवाएं भी ली जाएगी।

cow hospital

ख़ास बात यह है कि मनुष्य को अस्पताल पहुँचाने वाले एम्बुलेंस की तर्ज पर यहाँ भी बीमार गायों को लाने के लिए 10 एम्बुलेंस होंगी जिनके सहारे गायों को लाया जाएगा। 200 से 300 किलोमीटर दूर से भी गायों को लाने की व्यवस्था रहेगी।

यह रहेगा गौ अस्पताल का प्रारूप

  • 17 सितंबर 2020 को पीएम नरेंद्र मोदी करेंगे लोकार्पण।
  • 10 हजार घरों से गौ ग्रास की व्यवस्था की जाएगी।
  • संत निवास होगा जहां देश भर से आने वाले संतों के लिए रुकने की व्यवस्था होगी।
  • 33 हजार स्क्वेयर फिट में होगा प्रवचन स्थल।
  • 10 एम्बुलेंस होगी यहां पर जो 200 से 300 किलोमीटर तक बीमार गायों को लाने का काम करेगी।
  • प्रथम चरण में 10 हजार हिन्दू और 1 हजार मुस्लिम बंधु इसके सदस्य होंगे।
  • हर किसान प्रति माह एक मुट्ठी अनाज गौशाला के लिए प्रदान करेगा।
  • योगिता माहेश्वरी व रक्षा कुमार माहेश्वरी ने 1 लाख 11 हजार अध्यात्म गौ मन्दिर हेतु देने की घोषणा की।

मुस्लिम धर्मावलम्बी रुआब पठान ने कहा कि जीवदया हर मानव का कर्तव्य है। मुस्लिम बंधु ने केवल गौशाला में सहयोग करेंगे बल्कि अस्पताल शुरू होने पर गायों की सेवा भी करेंगे। वहीँ कथा वाचक एवं गौसेवा अध्यात्म संस्था प्रमुख पंकज शास्त्री ने कहा कि मुस्लिम धर्मावलंबियों का समर्थन काफी प्रशंसनीय है। 13 एकड़ में बनने वाले इस अस्पताल का भूमिपूजन गोपाष्टमी को नरेंद्र मोदी के भाई करेंगे और लोकार्पण अगली गोपाष्टमी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here