Madhya Pradesh में यूं तो अप्रत्याशित रूप से दिसंबर बेहद गर्म रहा, लेकिन नए साल की शुरुआत से ही न्यूनतम तापमान गिरने लगा है. बुधवार की सुबह जबलपुर और आसपास के इलाकों में घना कोहरा छाया रहा. यहां विजिबिलिटी बेहद कम थी. हवा की गति भी 16 किलोमीटर प्रति घंटे से ज्यादा रिकॉर्ड की गई. सर्द हवाओं के कारण ठंड ज्यादा महसूस हो रही थी. इसका असर लोगों की आम दिनचर्या पर भी पड़ा. लोग गाड़ियों की लाइट जला कर सड़क पर चल रहे थे.

Madhya Pradesh के 10 जिलों में शीतलहर का अलर्ट

मध्य प्रदेश में एक बार ठंड फिस से अपना असर दिखा रही है. मौसम विभाग ने 10 जिलों के लिए शीतलहर के साथ कुछ जिलों में कोहरे और पाले का अलर्ट जारी किया है. वहीं छत्तीसगढ़ में हवाओं का रुख बदलने के कारण ठंड में कमी आने के साथ तापमान में थोड़ी बढ़ोतरी हुई है. हालांकि, मौसम विभाग ने बादल छटने के बाद ठंड बढ़ने की संभावना जताई है.

अगले हफ्ते तक रहेगा ठण्ड का कहर

मौसम विभाग की माने तो छतरपुर, ग्वालियर और दतिया में घना कोहरा पड़ने का संभावना है. वहीं उमरिया, छतरपुर, राजगढ़, ग्वालियर, दतिया में पाला पड़ने के साथ अगले कुछ दिनों में धार, इंदौर, जबलपुर, छतरपुर में कोल्ड डे रह सकता है. नौगांव में पारा लुढ़कर 02 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है. वहीं 25 जिलों में तापमान एक बार फिर 10 डिग्री के आसपास बना हुआ है. मौसन विभाग की माने तो ये महौल अगले एक हफ्ते तक बना रहेगा. ग्वालियर में 24 घंटे में हार्ट-अटैक से 5 लोगो की मौत हो गई है.

Also Read: MP Tourism: मांडू के इस प्राचीन मंदिर में विदेशियों को भी झुकाने पड़ते हैं अपने सिर, जाने मान्यता