दुनिया की पहली मोबाइल एप ‘ओ जिनी’ आपकी यात्रा का हमसफर बनेगा

0
111

इंदौर। ‘ओ जीनी‘ अर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर आधारित मोबाइल एप है, जो आवाज पर आपके लिए काम करती है। यह आवाज पर आपका ट्रेवल दोस्त बनकर काम करने वाली एप्लीकेशन है। आपकी यात्रा को समझकर आपके लिए काम करता है। इसे चलाने के लिए सिर्फ आपको बोलना है, लिखने या टाइप करने की जरुरत नहीं है।

कहीं भी ट्रेवल करना हो अपने आर्टिफिसियल इंटेलिजेंस ऐप को बोलकर कर उपयोग करना है। आपकी कम से कम दामों पर ट्रेवल बुकिंग कुछ ही सेकण्ड्स में हो जाएगी। दुनिया की इस पहली मोबाइल एप एप्लीकेशन को एशिया की सबसे बड़ी टेक कांफ्रेंस एशियाराइज ने सिलेक्ट किया है। पूरे विश्व से 65 स्टार्टअप और भारत से 5 का चयन हुआ है, उसमें इंदौर से एक मात्र स्टार्टअप ‘ओ जीनी‘ है। एशिया राइज ने दुनियाभर के बड़े-बड़े इंवेस्टर्स के सामने ‘ओ जीनी‘ को अपनी मोबाइल एप्लीकेशन का प्रेजेंटेशन देने के लिए आमंत्रित किया है।

को – फाउंडर और प्रोमोटर विवेक जैन, अंकित कीमती, जयसिंह जैन और संतोष कटारिया एशिया राइज के आमंत्रण पर हांगकांग के लिए रवाना हो गए हैं, जहां सात दिन तक दुनिया के इन्वेस्टर्स मीटिंग करेंगे। को – फाउंडर विवेक जैन ने बताया कि हम टेक्नोलॉजी का उपयोग कर आपने आपको टेक्नोलॉजी के हिसाब से ढाल रहे, जबकि ‘ओ जीनी‘ टेक्नोलॉजी लोगों के हिसाब से अपने आप को ढालकर कर असिस्टेंट की तरह मदद करती है।

यह ‘ओ जीनी‘ मोबाइल ऐप आपसे एक नार्मल व्यक्ति बनकर बात करेगा। अभी यह टेक्नोलॉजी सिर्फ यात्रा के लिए इस्तेमाल की गई है और यात्रा में होने वाली सभी समस्याएं इस वाइस एप्लीकेशन से हल होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here