देश में पिछले कुछ दिनों से एयर फ्लाइट में कई कांड होते नजर आ रहे है। बीते रविवार की देर रात को इंडिगो के विमान में जैसे ही कैप्टन ने रनवे पर फ्लाइट दौड़ाई तो उसमें बैठा एक यात्री जोर-जोर से चीखने-चिल्लाने लगा। इतना ही नही फ्लाइट से उतरने के बाद वह एयर पोर्ट पर तैनात सुरक्षाकर्मियों को भी चमका देकर निकल गया।

मिली जानकारी के मुताबिक, इंडिगो की फ्लाइट 6E-6383 में रविवार रात नशे की हालत में एक यात्री ने पटना एयरपोर्ट पर हुड़दंग मंचा दी थी। इसके बाद भी वह केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) की नजरों से गायब हो गया। लेकिन इस मामले में 14 घंटे बीतने के बाद भी अभी यात्री के बारें में कोई खबर नही है। वही अधिकारियों का कहाना है कि, ऐसी कोई घटना ही नही हुई है। लेकिन कुछ मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ऐसी घटना हुई है।

राजनीति का दिखाया धौंस

रविवार को जब टेकऑफ के लिए इंडिगो की फ्लाइट दिल्ली एयरपोर्ट के रनवे पर आ गई, तब नशेड़ी यात्रियों ने हंगामा शुरू किया। चीखना-चिल्लाना, गालियां, हाथापाई। यह सब होने के बाद भी इंडिगो की ओर से सोमवार सुबह दो लोगों के शराब पीने की सूचना पटना के हवाई अड्डा थाने को दी गई। इसी सूचना पर प्राथमिकी दर्ज हुई। यात्रियों ने बताया कि, नशे में हंगामा कर रहे दो यात्री बार-बार अपनी पहुंच की धौंस दिखा रहे थे। हंगामे के दौरान धौंस की अपुष्ट जानकारी के आधार पर इन्हें जनता दल यूनाईटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह से जुड़ा बताया जा रहा था।

केबिन क्रू के साथ की ये हरकत

फ्लाइट में केबिन क्रू पर धौंस जमाने के लिए इनमें से एक ने मोबाइल से कैप्टन को तस्वीरें दिखाईं। बताया जाता है कि राजनीति में अच्छी पैठ रखने वाले पिंटू का पप्पू यादव समेत कई दलों के बड़े नेताओं के साथ फोटो है, जिसके आधार पर यह सब धौंस दिखा रहे थे। पड़ताल के क्रम में सामने आया कि दो गिरफ्तार और एक फरार शख्स कुछ दिन पहले गोवा घूमते हुए अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे थे।

नीतीश के साथ गिरफ्तार रोहित सिंह को भी वैशाली के जदुआ-मरई के लोग अच्छी तरह से जानते हैं। रोहित को ननिहाल के कारण ज्यादा लोग जानते हैं। रोहित और नीतीश को पिंटू उर्फ मनीष का बेहद करीबी बताया जा रहा है। वैशाली के जाप जिलाध्यक्ष पप्पू ने बहुत पूछे जाने पर कहा कि पिंटू के बारे में राज्य स्तर पर जानकारी मिलेगी। हां, नीतीश को मनीष उर्फ पिंटू के साथ देखा था, हालांकि उसे संगठन में अपने स्तर से कोई पद नहीं दिया है। रोहित को उन्होंने पहचानने से इनकार किया।