हुबली में बोले शाह, नागरिकता कानून का विरोध करने वाले दलित विरोधी

0
amit shah

हुबली। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने वालों को दलि विरोधी करार दिया है। उन्होने कहा कि जो लोग सीएए का विरोण कर रहे हैं वे दलित विरोधी है। इस दौरान उन्होने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस ने देश का धर्म के आधार पर बंटवारा किया है।

अमित शाह ने हुबली में अपने संबोधन में कहा कि सीएए पर कांग्रेस और राहुल गांधी भ्रम की स्थिति पैदा करने के प्रयास कर रहे हैं। संशोधित कानून में ऐस कोई धारा नहीं है, जो कि मुस्लिमों की नागरिकता लेने की बात करती हो।

शाह ने कहा कि मै नागरिकता कानून का विरोध करने वालों से पूछना चाहता हूं कि जो दलित पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से प्रताड़ित होकर आए हैं, उनके खिलाफ जाकर आपको क्या मिलेगा? जो लोग इसका विरोध कर रहे हैं वे दलित विरोधी भी हैं।

बता दे कि केंद्रीय गृह मंत्री ने बेंगलुरु में आयोजित वेदांत भारती के विवेकदीपनी महासमर्पण कार्यक्रम में शिरकत की थी। इसको लेकर उन्होने ट्वीट कहर कहा, ‘मैं वेदांत भारती को साधुवाद देता हूं कि उन्होंने लाखों बच्चों के जीवन में वेदों और उपनिषदों के संदेश को इतनी सरलता से पहुंचाया है। हमारे वेदों, उपनिषदों व शास्त्रों में जो ज्ञान है, उसको शिक्षा के साथ बच्चों को देना और उनके जीवन को लक्ष्य के प्रति समर्पित करना बहुत जरूरी है।‘