योगाचार्य और पुरस्कृत समाजसेवी बनकर चलाती थी सेक्स रैकेट

भोपाल के पास सीहोर जिले में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है पुलिस ने सूचना मिलने पर जब एक स्थान पर रेड डाली तो वहां पर सेक्स रैकेट पकड़ा गया

MP News : भोपाल (Bhopal) के पास सीहोर जिले में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है पुलिस ने सूचना मिलने पर जब एक स्थान पर रेड डाली तो वहां पर सेक्स रैकेट (Sex racket) पकड़ा गया और इस रैकेट की सरगना महिला की सच्चाई जब उजागर हुई तो पुलिस भी चौक गई क्योंकि यह महिला योगाचार्य सम्मान से पुरस्कृत होकर अपने आपको समाज सेवी तथा नेता भी बताती थी ।

इस महिला का नाम अनुपमा तिवारी बताया जाता है और इसने नगर पालिका के पार्षद का चुनाव भी लड़ा था बस स्टैंड के पास अपने मकान में यह रैकेट चलाती थी जिसमें मौके से पुलिस ने अय्याशी के सामानों के साथ ही चार लड़कियां, तीन ग्राहक महिला मैनेजर सहित अन्य लोगों को गिरफ्तार किया।

ये भी पढ़े – Nora Fatehi ने जमीन पर लेटकर किया डांस, वीडियो देख दंग रह गए फैंस

इस महिला के बारे में जो खुलासा हुआ है वह बेहद शर्मनाक है महिला एक दल से भी जुड़ी हुई है और वह साहित्य साधना नामक एक संस्था भी चलाती है सबसे बड़ी बात यह है कि इस महिला ने कुछ दिनों पहले यह वक्तव्य दिया था कि प्रदेश में बच्चियां सुरक्षित नहीं है और दरिंदे उनका शिकार करते हैं इसके अलावा इस महिला को अपर कलेक्टर द्वारा समाजसेवी पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है ।