अपने 45 करोड़ ग्राहकों के लिए SBI ने जारी की जरूरी खबर, जान लें ये बात वरना होगा बड़ा नुकसान

ग्राहकों की सुरक्षा को देखते हुए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank Of India) की ओर से जरूरी सूचना जारी की गई है.

दिल्ली। ऑनलाइन (Online Banking) होते जमाने में स्मार्टफोन (Smartphone) के जरिए आजकल एक क्लिक पर सब कुछ हो जाता है. शॉपिंग करनी हो या फिर पैसों का लेनदेन (Money Transfer) आजकल सब कुछ ऑनलाइन ही होता है. लेकिन कहते हैं ना जितनी सुविधा की होती है उतने ही उसके नुकसान भी होते हैं. ऐसे ही ऑनलाइन सर्विसेज का फायदा उठाकर साइबर फ्रॉड (Cyber Fraud) करने वाले जनता को ठगने का काम कर रहे हैं.

आए दिन कोई न कोई ऑनलाइन फ्रॉड (Online Fraud) का मामला सामने आता है. जहां ठगी करने वाले लुभावने तरीके से लोगों को फंसा कर उनके साथ ठगी कर जाते हैं. इसी को देखते हुए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अपने ग्राहकों को ट्वीट के माध्यम से सतर्क किया है.

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank Of India) की ओर से हाल ही में एक ट्वीट किया गया है. जिसमें बैंक ने अपने सभी ग्राहकों को यह कहा है कि वह किसी भी कंडीशन में अपना ओटीपी (OTP) किसी के साथ शेयर ना करें. अपने ट्विटर हैंडल पर एसबीआई ने लिखा कि चीजें शेयर करना अच्छा होता है, लेकिन जब ओटीपी शेयर करने की बात आए तो इसे किसी के भी साथ शेयर ना करें. बता दें कि एसबीआई के देश भर में 45 करोड़ से ज्यादा ग्राहक है और उन्हीं को सतर्क करते हुए एसबीआई ने यह ट्वीट किया है.

 

दिन पर दिन बढ़ते साइबर फ्रॉड के मामलों को देखते हुए एसबीआई की ओर से एक कदम उठाया गया है. अक्सर यह देखने में आ रहा है कि लोगों को अपने जाल में फंसा कर साइबर ठग, ठगी करते हुए अकाउंट से पैसा गायब कर लेते हैं. जिसका खामियाजा ग्राहकों को भुगतना पड़ता है.

देश में इन दिनों वैसे भी साइबर फ्रॉड के मामले बहुत ज्यादा बढ़ गए हैं Indian Computer Emergency Response Team के द्वारा दिए गए आंकड़ों की अगर मानें तो 2018 के बाद देश में तेजी से साइबर अपराध का जाल फैला है. साल 2018 में जहां 2,08,456 मामले सामने आए थे तो वहीं 2019 में 3,94,499 मामले देखे गए. 2020 में इन मामलों की संख्या 11,58,208 थी जो 2021 में 14,02,809 हो गई. बढ़ते हुए मामलों की संख्या साल 2022 के पहले 2 महीने में 2,12,285 दर्ज की गई. साइबर अपराधी (Cyber Criminal) लगातार लोगों को अपना शिकार बना रहे हैं. इसी को देखते हुए एसबीआई द्वारा अपने ग्राहकों को समय-समय पर सतर्क किया जाता है. एक बार फिर अपने ट्वीट के माध्यम से एसबीआई ने ग्राहकों को फ्रॉड से बचने की सलाह दी है.