सोशल पर इन दिनों एक खबर काफी तेजी से वायरल हो रही है जिसमें यह दावा किया जा रहा है कि भारतीय रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया नए साल यानि 1 जनवरी से 1000 का नया नोट जारी करने जा रही है। जिसके बाद 2000 का पुराना नोट वापस ले लिया जायेगा। अगर आपने भी सोशल मीडिया के माध्यम से इस तरह की खबर या मैसेज देखा है तो इसकी सच्चाई जानना बेहद जरुरी है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 8 नवंबर 2016 को देश में नोटबंदी का ऐलान किया था, जिसके बाद उसी दिन आधी रात से 500 और 1000 के नोट चलन से बाहर कर दिया गया था। इसके बाद पांच सौ का नया नोट आया और एक हजार के नोट की बजाय दो हजार रुपये के नोट छापे गए। तब कहा गया था कि नोटबंदी से ब्लैकमनी और आतंकवाद पर अंकुश लगेगा। अब जो सच्चाई सामने आ रही है, उस पर बीजेपी सांसद ने भी बोलने से गुरेज नहीं किया।

क्या है इस वायरल खबर के पीछे सच्चाई

PIB Fact Check ने अपनी जांच में पाया कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में किया जाने वाला दावा पूरी तरह से फर्जी है। इसका सीधा मतलब ये हुआ कि 1 जनवरी, 2023 से न तो 1000 रुपये के नए नोट आ रहे हैं और न ही 2000 रुपये के नोट बैंकों में वापस लौटाए जा रहे हैं। 2000 रुपये का नोट पहले की तरह ही बाजार में चलता रहेगा।

Also Read : IMD Alert : भीषण ठंड के प्रकोप के बीच इन 10 जिलों में बरसेंगे बादल, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

इसके अलावा PIB Fact Check ने लोगों से अपील की है कि इस तरह के भ्रामक मैसेज को किसी भी व्यक्ति के साथ शेयर न करें और न ही सोशल मीडिया पर किसी ग्रुप में फॉरवर्ड करें।