पंजाब चुनाव: बेअदबी के जख्म फिर से हरे हो गए है…

रविवार (Raviwar) को पंजाब सूबे में भी विधानसभा चुनाव (Assembly election) के लिए मतदान का सिलसिला सुबह से ही शुरू हो गया है।

चंडीगढ़ : रविवार (Raviwar) को पंजाब सूबे में भी विधानसभा चुनाव (Assembly election) के लिए मतदान का सिलसिला सुबह से ही शुरू हो गया है। इसी बीच चुनावी मैदान में उतरे उम्मीदवारों द्वारा भी बयानबाजी कर सियासत तेज की जा रही है।  पंजाब सूबे के मौजूदा सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा है कि अकाली दल अपने दम पर चुनाव नहीं लड़ रहा है क्योंकि उसे डेरा सच्चा सौदा का समर्थन है।

राजनीति में गर्माहट  

हालांकि यह साफ नहीं है कि अंदरूनी स्तर पर डेरा सच्चा सौदा का समर्थन है या नहीं लेकिन मतदान के दौरान चन्नी का यह बयान निश्चित ही अकाली दल के नेताओं को अंदर तक हिला देने वाला ही है।  चन्नी ने यह भी कहा है कि डेरा सच्चा सौदा के अकाली दल को समर्थन से बेअदबी के जख्म फिर से हरे हो गए है।

Must Read : Kota Accident : चंबल नदी में गिरी बारातियों से भरी कार, दूल्हे सहित 9 की मौके पर मौत

इधर चन्नी के इस बयान से राजनीति के मैदान में कई बड़े मायने भी लगाए जा रहे है। उन्होंने आम आदमी पार्टी के चीफ अरविंद केजरीवाल के खालिस्तान विवाद को भी एक बार उठाकर राजनीति में गर्माहट ला दी है।

चन्नी ने मान को भी घेरा

सीएम चन्नी ने न केवल अकाली दल को बल्कि भगवंत मान को भी घेरे में लिया है। उन्होंने यह कहा है कि डेरा सच्चा सौदा के बल पर ही भगवंत मान चुनाव लड़ रहे है। बता दें कि मान आम आदमी पार्टी की तरफ से चुनाव लड़ रहे है और पार्टी ने उन्हें ही सीएम का चेहरा भी घोषित कर रखा है।

चन्नी ने यह भी कहा है कि डेरा खुले तौर पर सामने नहीं आ रहा है लेकिन अलग-अलग सीटों पर संदेश भेजे गए है। चन्नी ने यह भी आरोप लगाया है कि पंजाब में सत्ता हांसिल करने के लिए आम आदमी पार्टी प्रमुख केजरीवाल ने खालिस्तानी संगठन का साथ लिया है लेकिन पंजाब की जनता उन्हें ऐसा नहीं करने देगी।