मध्य प्रदेश के कई जिलों में कई मौसम साफ रहा तो कही पर हल्की बारिश हुई हैं। लेकिन अच्छी खबर यह रही की समुचे प्रदेश में कही भी भारी बरसात नही हुई है। मौसम की गतिविधि कम होने से राहत की खरब है। इसकी बड़ी वजह यह रही है कि, उत्तर राजस्थान की ओर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है और एक ट्रफ रेखा उसी परिसंचरण से छत्तीसगढ़ की उत्तरी कलाओं की ओर जा रही है। इससे एमपी में बारिश हो सकती है लेकिन भारी बारिश की संभावना नहीं है।

चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र

बीते शनिवार को प्रदेश भर में हल्की बरसात दर्ज की गई हैं। वहीं राजधानी भोपाल में बारिश की गतिविधियां कम देखने को मिली हैं। इसकी बड़ी वजह मौसम विभाग नेे बताया कि, उत्तर राजस्थान की ओर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है और एक ट्रफ रेखा उसी परिसंचरण से छत्तीसगढ़ की उत्तरी कलाओं की ओर जा रही है। इससे एमपी में बारिश हो सकती है लेकिन भारी बारिश की संभावना नहीं है।

Also Read : National Highway : हरियाणा सरकार ने किसानो की मानी बात, धान कि खरीदारी करेंगी तत्काल शुरू

प्रदेश में इतने घंटे की रफ्तार से चली हवा

शनिवार को राजधानी भोपाल में अधिकतम तापमान 29.7 डिग्री सेल्सियस रेकॉर्ड किया गया है। रात के तापमान में गिरावट देखने को मिली है। न्यूनतम तापमान 21.8 डिग्री सेल्सियस रेकॉर्ड किया गया है। शहर में दक्षिण-पश्चिम की दिशा में 18 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चली है। वहीं, सुबह साढ़े आठ बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक कुछ जगहों पर बारिश दर्ज की गई है। ग्वालियर में 6.3 mm बारिश दर्ज की गई है। पचमढ़ी में 5 mm, मंडला में 1 mm, सतना में 0.6 mm, गुना में 0.4 mm, खजुराहो में 0.4 mmऔर शिवपुरी में दो एमएम बारिश दर्ज की गई है।

आसमान साफ

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार भोपाल में रविवार को आसमान साफ रहेगा। कुछ हिस्सों में हल्की बारिश की संभावना है। साथ ही गरज चमक के साथ बौछारें भी पड़ सकती हैं। अधिकतम तापमान में 30 और न्यूनतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। हवा की गति 20 किमी प्रति घंटा रहेगी।

इन जिलों में आकाशीय बिजली गिरने की बन रही है संभावना

राज्य पूर्वानुमान के अनुसार कुछ जगहों पर गरज चमक के साथ आकाशीय बिजली गिरने की संभावना है। नर्मदापुरम, भोपाल, ग्वालियर और चंबल संभाग में मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार प्रदेश में आज बारिश की गतिविधि कम रहेगी।