Posted inUjjain News

महाकाल मंदिर में मोबाईल फोन पर लगा बैन, मंदिर प्रबंध समिति की बैठक में लिए गए अहम निर्णय

उज्जैन बाबा महाकाल मंदिर परिसर में फिल्मी गानों पर वीडियो बनाने के लगातार सामने आए मामलों के बाद अब एक बड़ा फैसला लिया गया है, अब महाकाल मंदिर से अंदर मोबाइल ले जाना पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा।

श्रद्धालु के साथ वीवीआईपी, पुजारी पर भी लगी पाबंदी 

बताया जा रहा है कि मंदिर में अब श्रद्धालु अपना मोबाईल फोन अंदर नहीं ले जा सकेगे, वही इसके साथ ही मंदिर में दर्शन करने आने वाले वीवीआईपी भी अपना फोन अंदर लेकर नहीं जा पायेगे, यह नियम मंदिर के पुजारियों के लिए भी लागू रहेगा, बताया जा रहा है कि श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति की बैठक में मोबाईल बैन किए जाने सहित और भी कई महत्त्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं।

महाकाल मंदिर प्रबंध समिति ने लिया बड़ा निर्णय

 श्रद्धालुओं की सुविधा को देखते हुए महाकाल मंदिर समिति नया प्रयोग करने जा रही है। इससे भस्म आरती की परमिशन में हो रही कालाबाजारी पर भी रोक लगेगी और श्रद्धालुओं को अच्छे से दर्शन भी हो सकेंगे।

एक-दो दिनों में नई व्यवस्था शुरू कर दी जाएगी जिसके चलते भस्म आरती में शामिल हुए श्रद्धालुओं के पास फोन या मैसेज आएगा। जिसमें 5 सवाल पूछे जाएंगे कि उन्हें भस्म आरती के दौरान का अनुभव कैसा लगा। इसी के साथ आरती की परमिशन किसने बनवाई और कितने रुपए लिए गए इस तरह के सवाल भी पूछे जाएंगे।

महाकालेश्वर मंदिर में रोज सुबह होने वाली भस्म आरती में शामिल होने के लिए देशभर से श्रद्धालु उज्जैन पहुंचते हैं। इस अनुपम आरती में भाग लेने आए श्रद्धालुओं के साथ ठगी की वारदात को अंजाम दे दिया जाता है। इसी देखते हुए समिति ने नई व्यवस्था बनाने का निर्णय लिया है। मंदिर प्रशासक संदीप सोनी का कहना है कि समिति ने निर्णय लिया है कि जल्द ही भस्मारती में आए श्रद्धालुओं को कॉल सेंटर से फोन कर फीडबैक लिया जाएगा। फोन करने के साथ मैसेज भी भेजे जाएंगे जिसमें श्रद्धालुओं से 5 सवालों के जवाब पूछे जाएंगे।