नई दिल्ली। अमेरिका से दिल्ली आ रही एक फ्लाइट में चौंकाने वाली घटना सामने आई है। एयर इंडिया (Air India) के विमान के बिजनेस क्‍लास में न्‍यूयॉर्क से दिल्‍ली की यात्रा कर रही एक महिला पर पुरुष यात्री ने पेशाब कर दिया। मामला 26 नवंबर का बताया जा रहा है। घटना को अंजाम देते वक्त पुरुष यात्री नशे में धुत था। वह एयर इंडिया के बिजनेस क्लास में यात्रा कर रहा था।

एयर इंडिया ने 26 नवंबर की न्यूयॉर्क-दिल्ली उड़ान एआई 102 से जुड़ी एक घटना की पुष्टि की है। आरोप है कि 70 साल की महिला की शिकायत के बाद भी केबिन क्रू मेंबर्स की ओर से व्यक्ति पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। इसके बाद महिला ने टाटा ग्रुप के चेयरमैन एन. चंद्रशेखरन को पत्र लिखा है, तब जाकर मामले की जांच शुरू हुई है।

एयर इंडिया ने घटना के संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। महिला यात्री ने टाटा ग्रुप के चेयरमैन एन. चंद्रशेखरन (Tata Group Chairman N. chandrasekaran) को चिट्ठी में लिखा कि क्रू मेंबर (crew member) बेहद ही संवेदनशील और कठिन परिस्थिति से ठीक से निपटने के प्रति सजग नहीं थे। उन्‍हें इससे काफी तकलीफ हुई कि एयरलाइन की ओर से उनकी सुरक्षा और सुविधा को सुनिश्चित करने को लेकर किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं की गई।

Also Read – आजादी से पहले इतने रुपए आता था बिजली का बिल, हाथों से होती थी छपाई, 83 साल पुराना बिल हुआ वायरल

70 वर्षीय महिला ने अपने पत्र में बताया कि वह एयर इंडिया की फ्लाइट AI-102 से न्यूयॉर्क के जॉन एफ कैनेडी एयरपोर्ट (John F Kennedy Airport) से दिल्ली के लिए यात्रा कर रही थीं। लंच के बाद विमान की लाइट बंद कर दी गई। इसी दौरान नशे में धुत व्यक्ति (drunk person) उनकी सीट के पास आया और मुझपर पेशाब कर दी। इसके बाद भी वह व्यक्ति मेरे पास ही खड़ा रहा। महिला ने लिखा है कि फ्लाइट के टॉयलेट में खुद को साफ करने के बाद क्रू ने मुझे पैजामा और स्लीपर दीं। महिला करीब 20 मिनट तक टॉयलेट के पास ही खड़ी रहीं, क्योंकि वह अपनी भीग चुकी सीट पर वापस नहीं जाना चाहती थीं।

एयर इंडिया ने बताया कि इस घटना के बाद एक आंतरिक समिति का गठन किया गया है। आरोपी पुरुष यात्री को ‘नो-फ्लाई लिस्ट’ में डालने की सिफारिश की गई। अधिकारियों ने बताया कि मामला अभी सरकारी समिति के अधीन है और फैसले का इंतजार है। इस पूरे मामले में नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) का बयान सामने आया है। डीजीसीए ने कहा कि इस घटना पर हमने एयरलाइन से रिपोर्ट मांगी है। लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।