उज्जैन। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को उज्जैन आगमन के दौरान त्रिवेणी संग्रहालय में अलौकिक लोक महाकाल लोक के निर्माण में अलग-अलग कार्यों के लिये लगे शिल्पकार एवं अन्य कार्य करने वाले कारीगरों का आत्मीय हृदय से सम्मान किया। मुख्यमंत्री ने त्रिवेणी संग्रहालय के ऑडिटोरियम में श्रम एवं रचनात्मकता के श्रेष्ठ कार्य करने वाले प्रतीकात्मक रूप से 25-30 कारीगरों का माला पहना कर स्वागत कर सम्मान किया।

मुख्यमंत्री ने अपने उद्बोधन में ‘महाकाल महाराज की जय’ के साथ कहा कि पसीना बहाने वाले कारीगरों का नाम सदैव याद किया जायेगा। श्री महाकाल भगवान की कृपा और कारीगरों के पसीने से अलौकिक रूप से निर्मित महाकाल लोक को देश-दुनिया में प्रशंसा मिल रही है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कारीगरों से कहा कि उन्होंने दिन-रात कड़ी मेहनत कर प्रथम चरण के निर्माण कार्यों को पूर्ण किया, उनका आत्मीय स्वागत है, अभिनन्दन है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरे द्वारा किया गया सम्मान मेरे अकेले का नहीं, बल्कि पूरे प्रदेश की जनता ने कारीगरों का सम्मान किया है। उन्होंने अन्त में अन्तर्मन से सबके प्रति सम्मान और हृदय से आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि अब द्वितीय चरण के कार्य प्रारम्भ होंगे। महाकाल की नगरी में काम पूरा होगा ही नहीं, बल्कि यहां निरन्तर काम चलते रहेंगे। इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री डॉ.मोहन यादव ने कहा कि इतिहास में पहली बार श्रमिकों, कारीगरों का मुख्यमंत्रीजी के द्वारा सम्मान किया जा रहा है, यह हमारे लिये गौरव की बात है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान महाकाल लोक के निर्माण कार्य में लगे सभी कारीगरों के साथ सहभोज में शामिल हुए। इसके पूर्व उन्होंने अपने हाथों से कारीगरों को भोजन परोसा। इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री डॉ.मोहन यादव, सांसद अनिल फिरोजिया, जिला पंचायत उपाध्यक्ष शिवानी कुंवर, बहादुरसिंह बोरमुंडला, विवेक जोशी आदि ने भी कारीगरों को भोजन परोसा और सहभोज में शामिल हुए।

Also Read: Ujjain: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अतिथि गृह का लोकार्पण एवं मेघदूत वन गार्डन का किया भूमि पूजन

इस अवसर पर महापौर मुकेश टटवाल, विवेक जोशी, बहादुरसिंह बोरमुंडला, पूर्व सांसद प्रो.चिन्तामणि मालवीय, पूर्व विधायक सतीश मालवीय, जगदीश अग्रवाल, राजपाल सिंह सिसौदिया, विशाल राजौरिया, संजय अग्रवाल, अनिल जैन कालूहेड़ा, सत्यनारायण खोईवाल, अशोक प्रजापत, आईजी संतोष कुमार सिंह, डीआईजी अनिल कुशवाह, कलेक्टर आशीष सिंह, पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र कुमार शुक्ल, आदि अधिकारीगण उपस्थित थे।