आबिद कामदार, इंदौर। अपने देश अपने वतन के लिए कुछ कर गुजरने का जज्बा और देशप्रेम भारतीयों में शुरू से ही रहा है, देश में आजादी से पहले कई लड़ाइयां लड़ी गईं, जिनमें कई प्रवासी भारतीय स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों और देश प्रेमियों ने भाग लिया। और देश की आजादी में अपना योगदान दिया।

इन्हीं प्रवासी और स्वदेशी देशभक्तों की तस्वीरों को शहर के ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में होने जा रहे प्रवासी भारतीय सम्मेलन में लगाया जा रहा है। यह तस्वीरें सेंटर के बाहर बनाए जा रहे पांडाल के मैन गेट पर लगाई जा रही है।

अपनी और आकर्षित करती स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की तस्वीरे

पांडाल के मैन गेट पर पंडित जवाहरलाल नेहरु, सुभाष चंद्र बोस, डॉ भीमराव अंबेडकर, गोपाल कृष्ण गोखले, वीर सावरकर, संता सिंह और अन्य सेनानियों की तस्वीरें लगाई जा रही है। जो की प्रवासी भारतीयों को अपनी जड़ों से रूबरू कराएगी।

प्रदेश की संस्कृति और विकास को दिखाती तस्वीरे

वहीं आयोजन स्थल के आसपास का नज़ारा भी काफ़ी आकर्षक है, जो की प्रदेश की सांस्कृतिक, प्राकृतिक और प्रदेश की विकसित उपलब्धियों को अपने में संजोए हुए है, आयोजन स्थल के बाहर और मेन गेट पर लगे होर्डिंग, बैनरो से झांकती मध्य प्रदेश की सांस्कृतिक, प्राकृतिक और विकसित संस्कृति मानो प्रदेश के भविष्य को अपनी और आकर्षित कर रही है।

Also Read : Supreme Court ने सिनेमाघरों में खाने पीने के सामान को लेकर लिया बड़ा फैसला, कहा हॉल के अंदर इन सामानों को लें जाने की देनी होगी इज़ाज़त

रियासतों से लेकर प्रदेश के विकास को दिखाती तस्वीरे

बेनरों में शहर में जल्द शुरू होने वाली मेट्रो ट्रेन, शहर का इन्फ्रास्ट्रक्चर,ओरछा किला, ग्वालियर का किला, खजुराहो के मंदिर, भीम बेटका, कान्हा टाइगर रिजर्व, खजुराहों नृत्य कला और प्रदेश की अन्य रियासतों को