इंदौर। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने परीक्षा संचालन में पारदर्शिता के लिए परीक्षा केन्द्रों के प्रत्येक कक्ष में सीसीटीवी कैमरे लगा ने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि परीक्षा केन्द्रों पर वीक्षण/पर्यवेक्षण कार्य में संलग्न शिक्षकों की ड्यूटी निरंतर परिवर्तित की जाए।

मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि संभाग, जिला एवं तहसील मुख्यालयों पर स्थित महाविद्यालयों में पदस्थ शिक्षकों की वीक्षकीय कार्य के लिए ड्यूटी एक महाविद्यालय से दूसरे महाविद्यालय में लगाई जाए। एक वर्ष यदि किसी शिक्षक की ड्यूटी किसी महाविद्यालय में लगाई जाती है तो आगामी वर्ष उसी महाविद्यालय में उनकी ड्यूटी पुन: न लगाई जाकर अन्य महाविद्यालय में लगाई जाना सुनिश्चित हो। अनुदान प्राप्त महाविद्यालय में स्थापित परीक्षा केन्द्रों में पर्यवेक्षक का कार्य शासकीय महाविद्यालय के शिक्षकों से ही कराया जाए। वीक्षकों की कमी होने पर शोधार्थियों से भी वीक्षकीय कार्य लिया जाए।

Also Read : Maharashtra : पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख एक साल बाद जेल से रिहा हुए , बोले मुझे झूठे मामले में फंसाया गया

मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर राजस्व और पुलिस विभाग से संबंधित कार्यपालक अधिकारियों की ड्यूटी भी सुनिश्चित की जाए तथा जिला स्तर पर पर्याप्त संख्या में उडनदस्तों का भी गठन किया जाए। उन्होंने कहा कि परीक्षा केन्द्रों पर नकल से संबंधित प्रकरणों पर कड़ाई से कार्यवाही की जाए।