Sidhu Moose Wala हत्याकांड में पुलिस कस्टडी में लॉरेंस बिश्नोई, ADGP का हुआ तबादला

Sidhu Moose Wala सत्या कांड में बड़ा एक्शन लेते हुए पंजाब पुलिस ने गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई को 5 दिन की पुलिस कस्टडी में ले लिया है. विश्नोई से पूछताछ कर मामले का पता लगाने की कोशिश की जा रही है.

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moose Wala) के हत्याकांड मामले पुलिस ने सख्त एक्शन लेते हुए तिहाड़ जेल की में बंद लॉरेंस बिश्नोई (Lawrence Bishnoi) को रिमांड पर ले लिया है. बताया जा रहा है कि पुलिस की स्पेशल सेल बिश्नोई से मूसेवाला हत्याकांड के बारे में पूछताछ करने वाली है. स्पेशल सेल ने बिश्नोई को 5 दिन की कस्टडी में लिया है. बता दें हत्याकांड के बाद यह खबर सामने आई थी कि इस हत्या की साजिश को गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बराड़ ने रचा था, इन्होंने हत्या की जिम्मेदारी भी ली थी.

इस मामले में पुलिस ने भठिंडा और फिरोजपुर की जेल में बंद गैंगस्टर मनप्रीत सिंह और शरद को भी 5 दिन के वारंट पर कस्टडी में लिया है. दोनों से पूछताछ की जा रही है यह दोनों ही लॉरेंस बिश्नोई गैंग के शार्प शूटर और सक्रिय सदस्यों में शामिल है. वहीं इसी बीच खबर आई है कि पंजाब के एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर बदल दिए गए हैं. आईपीएस ईश्वर सिंह को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है.

Must Read- शिमला में PM Modi के लिए हाथों से बनाई पेंटिंग लेकर पहुंची लड़की, प्रधानमंत्री ने की तारीफ

वही तिहाड़ जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई (Lawrence Bishnoi) के वकील ने पटियाला कोर्ट में एक याचिका दायर करते हुए लॉरेंस की सुरक्षा बढ़ाने की मांग करते हुए कहा कि जेल में उनकी जान को खतरा है. पंजाब पुलिस उनका एनकाउंटर कर सकती है या फिर विरोधी गैंग का हमला हो सकता है इसलिए सुरक्षा बढ़ाई जाए.

पुलिस को जानकारी मिली है कि मूसेवाला (Sidhu Moose Wala) की हत्याकांड की प्लानिंग तिहाड़ जेल में ही की गई थी. पंजाब के गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के एक फेसबुक पेज के जरिए हत्या की जिम्मेदारी ली गई है. इस पेज के जरिए कहा गया है कि सिद्धू की हत्या की जिम्मेदारी लॉरेंस और उनका भाई गोल्डी बराड़ लेते हैं.

लॉरेंस बिश्नोई की गैंग द्वारा हमले की जिम्मेदारी लेने पर यह सवाल सामने आ रहे हैं कि आखिरकार सिद्धू की हत्या क्यों करवाई गई है. तो आपको बता दें कि 7 अगस्त 2021 को हुए विक्की मधु खेड़ा मर्डर को इस हत्याकांड की वजह बताया जा रहा है. विक्की लॉरेंस का काफी करीबी था. जिसे दविंदर बंबीहा गैंग ने मार दिया था और उस हत्याकांड में शामिल शूटरों को मूसेवाला ने अपने यहां पर पनाह दी थी. जिसका बदला विश्नोई ने लेते हुए मूसेवाला को मौत के घाट उतार दिया.