लद्दाख : लाइन ऑफ कंट्रोल के नजदीक पहुंचा चीनी एयरक्राफ्ट, भारत ने दिखाई आँखे

पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर एक चीनी विमान, भारतीय सुरक्षा चौकियों के बहुत ही करीब आ गया था। भारतीय वायुसेना को रडार के जरिए मिली थी जानकारी, वर्ष 2020 के शुरु के चार महीनों में ही चीन के द्वारा 170 बार लाइन ऑफ कंट्रोल का किया गया उल्लंघन

भारत (India)और चीन (China) के संबंध बीते कुछ सालों से लगातार बिगड़ते ही जा रहे हैं। चीन समय समय पर अपनी षड्यंत्रकारी हरकतों के माध्यम से मतभेदों की खाई को लगातार चौड़ा करता जा रहा है। जानकारी के अनुसार पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर एक चीनी विमान, भारतीय सुरक्षा चौकियों के बहुत ही करीब आ गया था।भारत के द्वारा चीन की इस हरकत पर कड़ा विरोध जताया गया है।

Also Read-उत्तरप्रदेश : कल होगी पायल और संग्राम की शादी, 850 वर्ष पुराने मंदिर में लिया आशीर्वाद

भारतीय वायुसेना को रडार के जरिए मिली थी जानकारी

सूत्रों के अनुसार लाइन ऑफ कंट्रोल के नजदीक पहुंचे चीनी एयरक्राफ्ट की जानकारी सीमावर्ती क्षेत्र में तैनात भारतीय वायुसेना को रडार के जरिए मिली थी।जानकारी के अनुसार यह घटना जब हुई है, तब चीनी वायु सेना द्वारा पूर्वी लद्दाख के पास चीन के नियंत्रण वाले इलाकों में वायु सेना से संबंधित अभ्यास कर रही थी और अभ्यास के दौरान वायु सेना से जुड़े रक्षा उपकरणों का भारी मात्रा में चीनी सेना के द्वारा उपयोग किया जा रहा था।

Also Read-पंजाब : चंडीगढ़ में स्कुल में गिरा 250 साल पुराना पेड़, 1 बच्चे की मृत्यु, 13 बच्चे घायल

चीन पहले भी कर चुका है कई बार हरकत

चीन द्वारा नैतिक मर्यादा का उलंघन करने का यह कोई पहला मामला नहीं है। पहले भी कई बार चीन अपनी नापाक हरकतों से भारत के विश्वास को ठेस पहुंचा चुका है। 2015 के बाद से सीमा उलंघन के मामले बढ़ते ही गए हैं , जिसके लिए कई बार भारत द्वारा चीन को चेतावनी दी गई है। वर्ष 2019 में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति बिश्केक की मैत्रीय भेंटों के बावजूद 497 बार लाइन ऑफ कंट्रोल का उल्लंघन किया गया। वहीँ वर्ष 2020 के शुरु के चार महीनों में ही चीन के द्वारा 170 बार लाइन ऑफ कंट्रोल का उल्लंघन किया गया था ।