12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद (Swami vivekananda) की जयंती पर नेशनल यूथ डे यानी कि राष्ट्रीय युवा दिवस मनाया जाता है। 1893 में शिकागो में विश्व धर्म संसद में स्वामी विवेकानंद के प्रसिद्ध भाषण ने दुनिया के भारत को देखने के तरीके को बदल दिया था। उन्होंने भारतीय वेदांत और योग के दर्शन को दुनिया के सामने पेश किया जिसने भारत को दुनिया के आध्यात्मिक मानचित्र पर ला खड़ा किया। उन्होंने रामकृष्ण मिशन की स्थापना की थी। स्वामी विवेकानंद राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया में युवाओं के महत्व के बारे में मुखर थे। उन्होंने अपने विचारों से युवाओं को एक नई राह दिखाई है।

स्वामी विवेकानंद के ये  अनमोल विचार जीवन में दिखाएंगे एक नई राह

दिन में एक बार अपने आप से बात करें, नहीं तो आप इस दुनिया में एक बुद्धिमान व्यक्ति से मिलने से चूक सकते हैं।

सत्य को एक हजार अलग-अलग तरीकों से कहा जा सकता है, फिर भी हर एक सत्य ही होगा।



उठो! जागो! और तब तक मत रुको जब तक लक्ष्य प्राप्त न हो जाए।

हृदय और मस्तिष्क के बीच संघर्ष में, अपने हृदय का अनुसरण करो।

Also Read – इस दिन है माघ मास की पहली एकादशी, जानें शुभ मुहूर्त, और सही पूजन विधि