वनमंत्री विजय शाह की सजगता से पकड़ाया अंतरराज्यीय वन्यजीव तस्कर

वनमंत्री विजय शाह को जानकारी मिली थी कि विभिन्न राज्यों के बीच रेलमार्ग के जरिए दुर्लभ प्रजाति के वन्यप्राणियों की तस्करी की जा रही है।

खंडवा : वनमंत्री विजय शाह को जानकारी मिली थी कि विभिन्न राज्यों के बीच रेलमार्ग के जरिए दुर्लभ प्रजाति के वन्यप्राणियों की तस्करी की जा रही है। इसके बाद वनमंत्री ने मातहतों को रेलवे स्टेशनों पर नजर रखकर तस्करों को पकड़ने हेतु निर्देशित किया था।

सोमवार देर रात कानपुर से मनमाड़ (महाराष्ट्र) जा रहे फरीद अहमद पिता बशीर अहमद निवासी उन्नाव (उत्तर प्रदेश) के सामान की वन अमले ने जाँच की। फरीद अहमद अपने साथ जो बॉक्स लेकर जा रहा था उसे खोलकर देखा तो सभी हतप्रभ रह गए। आधा दर्जन से अधिक दुर्लभ प्रजाति के गिद्ध बक्से में भरे हुए थे।

आरोपी फरीद अहमद को खण्डवा के वन अमले ने हिरासत में ले लिया है। उससे पूछताछ जारी है। खण्डवा एसडीओ नितिन राजोरिया ने बताया कि, आरोपी को कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत कर रिमांड माँग रहे हैं। पूछताछ में बड़े तस्कर गिरोह का खुलासा होने की उम्मीद है।

वन्यजीव तस्करों पर हो सख्त कार्रवाई –

वनमंत्री कुँवर विजय शाह ने गिद्ध तस्कर के विरुद्ध कठोर कार्रवाई करने और वन्यजीव तस्करों पर कड़ी नजर रखने के निर्देश दिए हैं। शाह ने कहा कि वन्यजीवों की रक्षा करना हमारा कर्तव्य है। वन्य प्राणियों की तस्करी और खरीद- फरोख्त करने वालों पर कठोर एक्शन लेंगे।