इंदौर : मलाईदार विभागों को लेकर भी एम आई सी में होगी उठापटक

अभी तो भाजपा में एम आई सी में आने के लिए पार्षद विधायकों के जरिए उठापटक कर रहे हैं, लेकिन साथ ही अब मलाईदार विभागों को लेकर भी उठापटक होने वाली है।

bjp flag

इंदौर(Indore) : अभी तो भाजपा में एम आई सी में आने के लिए पार्षद विधायकों के जरिए उठापटक कर रहे हैं, लेकिन साथ ही अब मलाईदार विभागों को लेकर भी उठापटक होने वाली है। जिस तरह से एम आई सी में आने को लेकर भाजपा में घमासान चल रहा है। उसी तरह से विभागों के बंटवारे को लेकर भी उठापटक होगी। लोक निर्माण, जल, सफाई, बिजली और राजस्व विभाग को लेकर विवाद होंगे। हालांकि किस एमआईसी मेंबर को कौन सा विभाग देना। इसका अधिकार मेयर का होता है।

Read More : बिहार में जल्द मिलेंगी नौकरियां, नीतीश सरकार ने विभागो से मांगा ब्यौरा

पार्टी में चल रही गुटबाजी के चलते हर विधायक चाहता है कि उसके समर्थक एम आई सी मेंबर को मलाईदार विभाग मिले। यदि विभागों के बंटवारे को लेकर इंदौर में फैसला नहीं हो पाया। तो यह मामला भी भोपाल जाएगा। आज एम आई सी के मेंबरों की घोषणा संभव है। उसके बाद विभागों के बारे में बात होगी। मेयर चाहते हैं कि अनुभवी लोगों को खास विभाग की जवाबदारी दी जाए, लेकिन सारे विधायक इस बात को लेकर भी अभी से बात कर रहे हैं कि उनके समर्थकों को अच्छे विभाग दिए जाए।

Read More : Share Market : सेंसेक्स पहुंचा 60,000 के पार, निवेशकों में दिखी खुशहाली

भाजपा में सीनियर पार्षद ज्यादा होने के कारण यह परेशानी आ रही है। इसके अलावा जिस तरह से सभी विधायकों ने अपनी पसंद के टिकट ले लिए थे। उसी तरह से एम आई सी और विभागों के बंटवारे को लेकर भी विधायक दबाव बना रहे हैं। सांसद शंकर लालवानी भी अपने समर्थकों को बनवाने के लिए भोपाल के बड़े नेताओं का सहारा ले रहे हैं। संभागीय संगठन मंत्री के नहीं होने से हर मामले भोपाल जा रहे हैं। पहले इंदौर स्तर पर ही काम निपट जाया करता था। इसके बाद झोंन अध्यक्ष और एल्डरमैन बनाने को लेकर भी इसी तरह के विवाद सामने आएंगे।