Indore: बाहरी प्रत्याशी चुने जाने से BJP कार्यकर्ता हुए नाराज, भोपाल तक पहुंची विरोध की आवाज

सांसद की पसंद के नाम के तय होने की खबर से फैला भाजपाइयों में असंतोष, सामान्य सीट से OBC और पूर्व पार्षद को टिकट देने का विरोध भोपाल तक पहुंचा.

Indore: एक और जहां पूरे प्रदेश में चुनाव की सरगर्मियां चल रही है. महापौर और पार्षद के टिकटों पर नाम तय किए जा रहे हैं. वहीं पार्टियों में इस बात को लेकर विरोध भी देखा जा रहा है. इसका उदाहरण हाल ही में देखने को मिला जब सांसद की पसंद से पार्षदों के नाम तय होने की खबर से भाजपाइयों में असंतोष देखा गया.

सामान्य सीट से भी ओबीसी और पूर्व पार्षद को टिकट देने का ही विरोध भोपाल तक पहुंच गया है. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा, संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा, संभागीय संयोजक मधु वर्मा और अध्यक्ष गौरव रणदिवे को पत्र लिखते हुए भाजपा के कार्यकर्ताओं ने यह कहा है कि वार्ड क्रमांक 66 में विगत चार बार से बाहरी प्रत्याशी पराग लोढ़े, अभय गदरे, लता पुरस्वानी, कंचन गिद्वानी को उम्मीदवार बनाया जाता रहा है. पार्टी की इस बात से कार्यकर्ता लंबे समय से नाराज चल रहे हैं. इस बार भी पार्टी बाहरी प्रत्याशी को उम्मीदवार बनाने के लिए अपनी स्वीकृति दे रही है. इस कारण से स्थानीय कार्यकर्ताओं में आक्रोश और भी बढ़ गया है. अगर इस बार भी बाहरी प्रत्याशी को आरक्षण के विरुद्ध जाकर उम्मीदवार बनाया जाता है, तो कार्यकर्ताओं का मनोबल गिर जाएगा. इसलिए आलाकमान से यह अनुरोध है की नगरी निकाय इंदौर के चुनाव में वार्ड क्रमांक 66 से किसी स्थानीय सक्रिय कार्यकर्ता को प्रत्याशी बनाया जाए.

Must Read- MP Weather Today: प्रदेश में मानसून ने दी दस्तक, इन जिलों में गरज-चमक के साथ बरसेंगे बादल

भाजपा कार्यकर्ताओं की ओर से पार्टी आलाकमान को लिखे गए इस पत्र से यह साफ जाहिर होता है कि लंबे समय से स्थानीय की जगह बाहरी कार्यकर्ता को मौका दिए जाने की वजह से पार्टी में रोष व्याप्त है. अगर पार्टी स्थानीय कार्यकर्ताओं पर ध्यान नहीं देगी तो उसे नुकसान उठाना पड़ सकता है.