Homeइंदौर न्यूज़Indore News : इंदौर में आयोजित हुआ 432 कन्याओं का सांस्कृतिक कार्यक्रम 

Indore News : इंदौर में आयोजित हुआ 432 कन्याओं का सांस्कृतिक कार्यक्रम 

Indore News : इंदौर के चिमन बाग मैदान में वार्षिक उत्सव कार्यक्रम रविवार को संपन्न हुआ। सेवा भारती इंदौर द्वारा बालिकाओं में शिक्षा स्वास्थ्य स्वालंबन के अलावा कई नाम से उनका प्रबोधन व प्रशिक्षण किया जाता है।

Indore News : इंदौर के चिमन बाग मैदान में वार्षिक उत्सव कार्यक्रम रविवार को संपन्न हुआ। सेवा भारती इंदौर द्वारा बालिकाओं में शिक्षा स्वास्थ्य स्वालंबन के अलावा कई नाम से उनका प्रबोधन व प्रशिक्षण किया जाता है। साथ ही बता दें निवेदिता प्रकल्प मे किशोरी बहनों के चलने वाला साप्ताहिक प्रकल्प है। वहीं इंदौर में निवेदिता के कुल 58 प्रकल्प बस्तियों में संचालित होते हैं। साथ ही इस प्रकल्प में 12 वर्ष से लेकर महाविद्यालिन बालिकाओं को सम्मिलित किया जाता है। साथ ही जानकारी के लिए बता दें इसके चलते इन का संपूर्ण विकास हो ऐसे कार्यक्रम एवं प्रशिक्षण संचालित होते हैं।

बता दें इसके चलते शारीरिक मानसिक बौद्धिक विकास स्वालंबन में मेहंदी ब्यूटी पार्लर, राखी निर्माण झालर, निर्माण हर्बल रंग दीपक सज्जा इत्यादि, सिखाया जाता है। संस्कार पक्ष में संस्कार, प्राचीन परंपरा रीति-रिवाज, आधुनिकता की चकाचौंध से मुक्त होती भारतीय संस्क्रती, सामाजिक समरसता, आदि तरह का कार्य सिखाया जाता है। बता दें आज इस कार्यक्रम में प्रतिभागी बहनों ने समता योग ,पिरामिड, अखाड़ा ,कराटे एवं सामूहिक व्यायाम योग का उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के साथ ही सांस्कृतिक प्रस्तुतियां भी लयबद्ध तरीके से 1 घंटे तक बिना अवरोध हुए दी।

Also Read – Indore News: भाजपा के लिए राष्ट्र सर्वोपरि – राष्ट्र प्रथम, सदैव प्रथम – सुमित्रा महाजन

इसके अलावा कार्यक्रम में मुख्य अतिथि उद्योगपति रीना जैन दीदी ने अपने उदबोधन मे कहा कि माता पिता को अपने बच्चो को सिर्फ किताबी शिक्षा ही नही बल्कि संस्कार और धर्म की शिक्षा का भी प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहिए और वह काम सेवा भारती बखूभी निभा रही है और कहा जिस कार्य मे बच्चों को रुचि हो  उसी का प्रशिक्षण  प्राप्त करना चाहिए। विशेष अतिथि उप महा अधिवक्ता उच्च न्यायालय इंदौर अर्चना खेर दीदी ने कहा की पुत्रियों को भी शिक्षा मै पुत्र के समान समान अवसर देना चाहिए।

क्योकि बेटे को तो अन्य शहर पड़ने या कार्य करने हेतु भेजा जाता है पर बेटियों को परमिशन नही दी जाती, और इसी कारण प्रतियोगी परीक्षा मे पुत्र आगे रहते है, अगर बालिकाओ को अच्छी शिक्षा के लिए या जॉब के लिए  बाहार या अन्य शहर भेजना है तो उन्हे आत्मरक्षक, संस्कार, स्वालंबन् का प्रबोधन व प्रशिक्षण देना चाहिये , जो सेवा भारती दे रही है। आज लगभग 432  बेटियो ने जो प्रदर्शन कीया  व तारीफ के काबिल है यह  प्रबोधन व प्रशिक्षण सभी किशोरीयो को भी देना चाहिए।

मुख्य वक्ता प्रांत उपाध्यक्ष विश्व हिंदू परिषद माला ठाकुर दीदी  ने कहा की वर्तमान चुनोतियो मे स्वालंबि स्वाभिमानी बहन खड़ी हो , स्वजागरण, स्वसंस्कृति ,स्वदेशी की भावना,के साथ अधिक से अधिक आत्म निर्भर बहन बने और उसके लिए सभी को संकल्प भी लेना चाहिए,  सेवा भारती इंदौर के माध्यम से भारत के स्वाधीनता का अमृत महोउत्सव हमे   गौरव शाली इतिहास बनाने का अवसर दे रहा है कार्यक्रम का प्रतिवेदन सेवा भारती महिला मंडल इंदौर अध्यक्ष, चारु दीदी ने प्रस्तुत किया एवं आभार सेवा भारती इंदौर उपाध्यक्ष वीरेंद्र जी बोडाना ने दिया इस कार्यक्रम की संपूर्ण तैयारी निवेदिता प्रकल्प  विभाग प्रमुख पूजा नागर के मार्गदर्शन में हुई। संपूर्ण कार्यक्रम का प्रबंधन दिनेश जी अग्रवाल व सेवा भारती एवं संघ के कार्यकर्ताओं द्वारा किया गये कार्यक्रम में लगभग 3000 समाज जन की उपस्थिति रही।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular