आपने भी शतरंज कभी ना कभी खिलाया देखा ही होगा जिसमें खिलाड़ी इतना ज्यादा दिमाग लगाते हैं। जिसका अंदाजा लगाना हर किसी के लिए संभव नहीं है। शतरंज के महारथी एक ही चाल में सामने वाले को पराजित करने तक का प्लान अंदर ही अंदर बना लेते हैं। लेकिन शतरंज खेलना हर किसी के बस में नहीं होता। भारत में विश्वनाथन आनंद को शतरंज का बेताज बादशाह कहा जाता है।

उन्होंने कई मौके पर भारत का नाम भी गौरवान्वित किया है लेकिन आज हम आपको एक ऐसी बच्ची बारे में बताने जा रहे हैं। जिसने हाल ही में शतरंज में वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है, ऐसा कारनामा और कोई नहीं कर पाया है। चलो आपको बताते हैं कि यह लड़की कौन है। जिसने शतरंज में वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम किया है।

दरअसल, यह रिकॉर्ड चेस खेलते हुए नहीं जबकि कीबोर्ड पर मोहरों को जमाते हुए अपने नाम पर किया गया है। जिसे पुडुचेरी की रहने वाली है, छोटी बच्ची ने किया है। इस रिकॉर्ड का वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है। जिसमें देखा जा सकता है कि किस तरह से यहां लड़की चेस बोर्ड पर काफी तेजी से मोहरों को जमा की भी नजर आती है इस बच्ची ने यह कारनामा 29.85 सेकंड में किया है।

इस वीडियो को दिनेश बुक वर्ल्ड रिकॉर्ड के आधिकारिक इंस्टाग्राम अकाउंट से साझा किया गया है। जिसमें देखा जा सकता है कि एस ओडेलिया जैस्मीन किस तरह से तेजी से शतरंज के सेट पर मोहरों को बिछा रही है। जानकारी के लिए बता दें कि पहले यह रिकॉर्ड डेविड रश यूएसए के नाम पर था जिसे 2021 में बनाया गया था। उन्होंने यह कारनामा 30.31 सेकंड में किया था।

Also Read: हाथ में तिरंगा..साड़ी पहने 80 वर्षीय महिला ने मैराथन में लगाई दौड़, देखते रह गए सारे लोग, देखें वीडियो

हालांकि यहां वीडियो 2021 का बताया जा रहा है। इतना ही नहीं यह रिकॉर्ड भी 20 जुलाई 2021 तारीख की पुष्टि करता है बताया जाता है कि एस ओडेलिया जैस्मीन ने इस रिकॉर्ड को बनाने के लिए काफी ज्यादा मेहनत की है उन्होंने लगातार 1 साल से ज्यादा समय तक अभ्यास किया जिसके बाद वह किया रिकॉर्ड अपने नाम कर पाई है। अब इस रिकॉर्ड के बाद उनकी काफी प्रशंसा हो रही है।