देश

पीएम मोदी घोषित करेंगे स्वच्छता सर्वेक्षण के परिणाम, इंदौर को चौके की उम्मीद

( विपिन नीमा )
इंदौर। स्वच्छता की हैट्रिक लगाने वाला देश का सबसे स्वच्छ व साफ सुथरा इंदौर शहर अब चौका लगाने की तैयारी में है। पूरे शहर की नजर इसी पर टिकी हुई है। दिन रात सफाई व्यवस्था में जुटे रहने वाले सफाई कर्मियों में भी उत्साह नजर आ रहा है। सफ़ेवकर्मियों को भी पूरा विश्वास है कि उनकी मेहनत रंग लाएगी।

कोविड के कारण लेट
स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के परिणाम आने में अब केवल 48 घंटे शेष रह गए है। 20 अगस्त को PM सुबह 11 बजे परिणाम घोषित करेंगे। कोविड-19 महामारी के कारण इस बार परिणाम में देरी हुई है।
इंदौर मजबूत स्थिति में
स्वच्छता में इंदौर सबसे आगे है। सफाई को लेकर इंदौर में इतने काम हुए है कि शायद ही किसी अन्य शहर में हुए होंगे। डोर 2 डोर कचरा कलेक्शन, कचरे से खाद बनाने , सुबह शाम सफाई,
सर्वाधिक कचरा गाड़ियां, शहर में 9 कचरा ट्रांसफर स्टेशन, शहर के गार्डनों का रखरखाव, चौराहों की सफाई, प्लास्टिक से मुक्ति, पूरे शहर में डस्टबिन, बस्तियों में शौचालयों का निर्माण , सावर्जनिक स्थलों पर महिला पुरुषों के लिए टॉयलेट जैसे कई बड़े बड़े कार्य हुए। इसी कारण आज इंदौर देश के कई शहरों से मजबूत स्थिति में है।
सफाई कर्मियों की विशेष भूमिका
शहर को स्वच्छ बनाने में हमारे सफाई कर्मियों की विशेष भूमिका रही। सफाई कर्मियों ने शहर की सफाई के लिए किसी से कोई समझौता नही किया। उन्होंने कभी यह नही देखा कि रात या दिन , सुबह या शाम , गर्मी या बारिश । सफाई कर्मियों का होंसला बढ़ाने के लिए निगम के अफसर भी कभी पीछे नही हटे।
29 दिनो तक चला सर्वेक्षण
केंद्रीय आवास और शहरी कार्य मंत्रालय की टीम द्वारा तैयार की गई स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 की सर्वे रिपोर्ट के आधार क्लीन सिटी घोषित होगी। देश के विभिन्न शहरों का 29 दिनों में स्वच्छ सर्वेक्षण का अभियान पूरा हुआ है।
विभिन्न श्रेणियों में दिए जाएंगे अवार्ड
जानकारी के अनुसार 20 अगस्त को होने वाले
स्वच्छ महोत्सव’ में बेहतर प्रदर्शन करने वाले शहरों को कुल 129 पुरस्कार दिए जाएंगे। ज्ञात रहे कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के अंतर्गत जनवरी में नगरीय निकायों का सर्वे कार्य हुआ था।जिसमें विभिन्न श्रेणियों में अवार्ड दिए जाना है। सर्वे के
परिणामों की घोषणा वर्चुअल इवेंट में की जाएगी।
PM सफाईकर्मियों से संवाद करेंगे
कार्यक्रम आयोजित कर रहे केंद्रीय आवास और शहरी कार्य मंत्रालय ने कहा है कि प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए देश के विभिन्न भागों के स्वच्छ भारत मिशन-शहरी (एसबीएम-यू) के चुनिंदा ‘स्वच्छाग्रहियों’ और सफाईकर्मियों से भी संवाद करेंगे।

दिल्ली नही भोपाल जाएंगे अफसर
20 अगस्त को PM की मौजूदगी में दिल्ली में अवार्ड की घोषणा की जाएगी, परंतु इस बार अवार्ड लेने अधिकारी दिल्ली नहीं जाएंगे। बल्कि भोपाल में मुख्यमंत्री के साथ बैठकर वर्चुअल कार्यक्रम के तहत अवार्ड प्राप्त करेंगे। बताया गया है कि निगमायुक्त आशीष सिंह और वर्तमान निगम आयुक्त श्रीमती प्रतिभा पाल , महापौर मालिनी गौड़ को इस कार्यक्रम के लिए 20 अगस्त को 10 बजे भोपाल आमंत्रित किया गया है।

स्वच्छता का पहला खिताब मैसूर ने जीता था
सर्वेक्षण के पहले संस्करण में भारत में सबसे स्वच्छ शहर का खिताब मैसुर ने हासिल किया था, जबकि इसके बाद इंदौर लगातार तीन साल तक (2017,2018,2019) शीर्ष स्थान पर रहा।

प्रदेश के 10 शहर नामांकित
परिणाम जारी करने के पूर्व प्रदेश के 10 शहरों को सराहनीय कार्य हेतु अवार्डी सिटी नामांकित किया गया है।
यह है अवार्डी सिटी
1 इंदौर
2 जबलपुर
3 बुरहानपुर
4 रतलाम
5 उज्जैन
6 सिहोरा
7 भोपाल
8 शाहगंज
9 कांटाफोड़
10 महुकेंट

Related posts
दिल्लीदेश

कोरोना रफ़्तार से DGCA सख़्त, 31 अक्टूबर तक बढ़ीं अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों पर रोक

नई दिल्ली : कोरोना की बढ़ती रफ़्तार को…
Read more
देशबॉलीवुड

ड्रग्स केस: बॉलीवुड की बड़ी हस्तियों का नाम आया सामने, जाने क्या है S, R, A का राज

मुंबई। अभिनेता सुशांत सिंह की मौत के…
Read more
दिल्लीदेश

हाथरस केस : सरकार पर भड़कीं सोनिया, कहा- जो हैवानियत हुई वह समाज पर कलंक

नई दिल्ली : हाथरस में 19 वर्षीय बिटिया…
Read more
Whatsapp
Join Ghamasan

Whatsapp Group