मध्य प्रदेश

टिड्डी दल से इंदौर और आसपास के क्षेत्रों को भी ख़तरा, बचाव के लिए लगवाए डीजे

भोपाल: खनिज विकास निगम के पूर्व उपाध्यक्ष गोविन्द मालू ने कहा कि पाकिस्तान से आए टिड्डी दल का खतरा मालवा और इंदौर के आसपास के क्षेत्रों में आने और उससे होने वाले आसन्न नुकसान के लिए सतर्क रहने और पूर्व तैयारी की जरूरत है।

आपने कहा कि यह खड़ी फसलों के अलावा सब्जियों और फलों के बड़े वृक्षों को तहस नहस करता है। इसलिए इस नुकसान की भरपाई होना संकट का कारण है। जिस तरह कोरोना वायरस में चीन की भूमिका संदेह के घेरे में है वैसे ही टिड्डी दल को भारत की सीमा में धकेलना पाकिस्तान की चाल है।

मालू नें इस संबंध में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्रसिंह तोमर प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल से चर्चा कर कृषि विशेषज्ञों के द्वारा इससे बचाव के उपाय करने का अनुरोध किया है। तोमर ने कहा कि केंद्र के विशेषज्ञों का दल बराबर इस बारे में सतर्क और मुस्तैद है। पल पल की जानकारी से हम अवगत है।

इंदौर के संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी से भी चर्चा की और उन्होंने कृषि संयुक्त संचालक से तुरंत इस बारे में आवश्यक उपाय करने के निर्देश दिए। मालू की उज्जैन संभागायुक्त आनन्द शर्मा से भी चर्चा हुई। शर्मा नें कहा कि हम मुस्तेदी के साथ सतर्क भी हैं, हमने 70 प्रतिशत तक टिड्डी दल आपदा पर काबू पा लिया है और गांव-गांव में डीजे लगवाए जाकर रोशनी की भी व्यवस्था की है।