देशमध्य प्रदेश

इंदौर: चार हजार से ज्यादा मजदूर अपने घर के लिए रवाना, खाना-पानी के लिए की गई उत्तम व्यवस्था

कल शाम एवं आज शनिवार सुबह 6 बजे तक महाराष्ट्र से लगभग 4000 से अधिक मजदूर बिहार एवं उत्तर प्रदेश तथा मध्य प्रदेश के विभिन्न जिलों में जाने हेतु एकत्रित हो चुके थे। इन मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण करवा कर खाना पानी करवाते हुए इन्हें किस तरफ जाना है उस हिसाब से बसों में बैठाया जा रहा है।

बिजासन के माता मंदिर के पास एवं भंवरगढ़ में लगे हुए टेंट तथा जगह-जगह पीने के पानी एवं भोजन वितरण की व्यवस्था के कारण मजदूरों को अनावश्यक रूप से इधर-उधर भटकना नहीं पड़ रहा था । उनकी मदद के लिए जिला पंचायत सीईओ तथा एसडीएम सेंधवा के नेतृत्व में यह कार्य शासकीय कर्मियों के साथ-साथ स्वयंसेवी संस्थाओं के पदाधिकारियों ने भी अच्छी तरह से संभाल रखा था ।

सुबह 6:00 बजे से मजदूरों को भेजने का प्रारंभ हुए इस कार्य में प्रातः 11:00 बजे तक 110 बसों के माध्यम से लगभग 4000 मजदूरों को उनके गंतव्य स्थान के लिए रवाना किया जा चुका था ।
उल्लेखनीय है कि कल यहाँ इंदौर के संभागायुक्त  आकाश त्रिपाठी और पुलिस महानिरीक्षक विवेक शर्मा ने पूरे दिन डेरा डाला था।

अब आज जैसे-जैसे मजदूर बड़ी बिजासन स्थल पर महाराष्ट्र की तरफ से आते जा रहे हैं उन्हें उसी समय बसों में बैठाकर रवाना किया जा रहा है। जिसके कारण अब इस स्थल पर मजदूरों की भीड़ लगभग खत्म हो गई है।