जम्मू-कश्मीर समेत पहाड़ों में हो रही बर्फबारी का असर दिल्ली समेत आस – पास के क्षेत्रों में देखने को मिल रहा है। राष्ट्रीय राजधानी में बीते दिन सोमवार को न्यूनतम तापमान इस मौसम के औसत से दो डिग्री कम रहा जिसके बाद तापमान 7.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। उत्तर भारत तथा मध्य भारत के कई इलाकों में सुबह के समय धुंध भी छाने लगी है। जिससे यातायात में मुश्किल हो रही है। इस बीच मौसम विभाग की मानें तो अगले कुछ दिनों में कई इलाकों में तापमान में अचानाक गिरावट दर्ज की जा सकती है।

राजधानी दिल्ली में गिरा तापमान

राजधानी दिल्ली की बात करें तो दिल्ली के तापमान में गिरावट देखी जा रही है। दिल्ली का आज का न्यूनतम तापमान 7.6 डिग्री सेल्सियस रहा, वहीं पहाड़ों की रानी शिमला में न्यूनतम तामपान 8.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसके साथ ही अगले दो दिन में सुबह के वक्त आसमान में धुंध बढ़ सकती है जबकि पूरे दिन आसमान साफ रहेगा। वहीं, प्रदूषण की बात की जाए तो दिल्ली की हवा में प्रदूषण का स्तर बेहद खराब कैटेगरी में है। इस दौरान अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 27 डिग्री सेल्सियस और 8 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहने की संभावना है।

उत्तर प्रदेश में मौसम का हाल

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बीते कुछ दिनों से पारा में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। आज यानी मंगलवार को सुबह से ही कोहरा छाया हुआ है. हालांकि, सुबह 7 बजे के बाद कोहरे में काफी कमी दर्ज की गई है। आज मौसम विभाग ने हवा धीमी रहने की संभावना जताई है। आज लखनऊ का न्यूनतम तापमान 16 डिग्री और अधिकतम तापमान 29 डिग्री रहने की संभावना है।

राजधानी दिल्ली समेत आस पास क्षेत्र में छाये रहेंगे बदल

दिल्ली-यूपी से लेकर उत्तराखंड समेत उत्तर भारत में ठंड बढ़ गई है। IMD के पूर्वानुमान के मुताबिक, आने वाले हफ्ते में तापमान में और गिरावट होने की संभावना है। हालांकि, उत्तर भारत के राज्यों में रात के समय नमी के साथ मौसम शुष्क बना हुआ है। लेकिन देश के कुछ राज्यों में आज भी बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तर भारत में अब कोहरे की शुरुआत हो चुकी है। पहाड़ों पर बर्फबारी से शीतलहर चल रही है, जिससे तापमान में काफी गिरावट दर्ज की जा रही है।

झारखंड में बढ़ रही ठंड

उत्तर की ओर से आ रही ठंडी हवाओं के कारण झारखंड में सर्दी में इजाफा हुआ है, पारा लगातार गिर रहा है। कई जिलों में तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे गिर गया है। राजधानी रांची में भी पारा गिरा है। प्रदेश के कई जिलों में शीत-लहर की स्थिति दिख लगी है। मौसम विभाग की मानें तो अगले पांच दिनों में दिन और रात के तापमान में कोई बड़े बदलाव की संभावना नहीं है। प्रदेश में मौसम आने वाले दिनों में शुष्क रहेगा।

बिहार में ठण्ड ने पकड़ी रफ़्तार

बिहार में ठंड का मौसम अब रफ्तार पकड़ने लगा है। पछुआ हवा के कारण राज्‍य में मौसम शुष्‍क बना हुआ है और तापमान धीरे-धीरे गिर रहा है। सोमवार को प्रदेश के 11 जिलों के न्यूनतम तापमान में जहां गिरावट आई वहीं पटना सहित 12 जिलों के न्यूनतम तापमान में वृद्धि दर्ज की गई है। बिहार में मौसम में 2 दिसंबर के बाद भारी बदलाव की संभावना जताई गई है। फिलहाल 2 दिसंबर तक मौसम शुष्क बना रहेगा। मौसम विभाग की मानें तो अगले पांच दिनों में दिन और रात के तापमान में कोई बड़े बदलाव की संभावना नहीं है।

इन राज्यों में बढ़ेगी ठंड

मौसम विभाग के अनुसार, आज उत्तरी अंडमान सागर के ऊपर एक ताजा चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बनने की संभावना है।वर्तमान में 2 सिस्टम एक्टिव है। पहला दक्षिण पूर्व अरब सागर के ऊपर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है और दूसरा चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र निचले क्षोभमंडल स्तरों में पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी और उत्तर अंडमान सागर के ऊपर बना हुआ है। पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, दिल्ली समेत कई राज्यों में आने वाले दिनों में सर्दी और बढ़ने की पूरी संभावना है।

Also Read : Covid -19 वैक्सीन के कारण हुई मौतों के लिए सरकार जिम्मेदार नहीं, केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में दिया जवाब

मौसम विभाग ने इन राज्यों में जताई बारिश की सम्भावना

निजी मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट वेदर के मुताबिक दक्षिण अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में एक या दो स्थानों पर हल्की से मध्यम और आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु के कुछ हिस्सों, गोवा और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में हल्की बारिश के आसार है। वही देश के बाकी हिस्सों में मौसम शुष्क बना रहेगा।दिल्ली-एनसीआर में आज मौसम साफ रहने का अनुमान है। अगले चार से पांच दिनों में ओडिशा के न्यूनतम तापमान में तीन से पांच डिग्री तक की कमी आएगी। वही, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में एक या दो स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु के कुछ हिस्सों, गोवा और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में हल्की बारिश संभव है और देश के बाकी हिस्सों में मौसम शुष्क बना रहेगा।