अगर आपको भी है उंगलियां चटकाने की आदत, तो हो जाए सावधान… हो सकती है ये बीमारियां

आपने अधिकतर लोगों को देखा होगा उनकी आदत होती है फ्री बैठे हुए या कभी भी बस उंगलियां चटकाने लगते है। कुछ लोगों को तो इसकी बहुत बुरी आदत ही लग जाती है। शुरू में तो उंगलियां चटकाना अच्छा लगता है लेकिन कब इसकी आदत लग जाती है पता ही नहीं चलता है। लेकिन आपको बता दें कि हर थोड़ी देर में बार-बार उंगलियां चटकाना आपको एक गंभीर बीमारी में डाल सकता है। आइए जानिए कौन सी दिक्कतें होती है उंगलियां चटकाने से –

Also Read – गर्मी में करें दही का सेवन, इन बीमारियों से मिल जाएगी निजात

क्या आपको भी हैं उंगलियां चटकाने की आदत तो हो जाइए सावधान

क्यों आती है उंगलियां चटकाने पर आवाज़ ?

अपने शरीर के सभी जॉइंट्स के बीच में लुब्रिकेशन के लिए सिनोवियाल फ्लूइड होता है। जब आप उंगलियां चटकाते है तो ज्वाइंट्स के बीच होने वाले इस फ्लूइड की गैस रिलीज होती है और उसके अंदर जो बबल्स होते है वे भी फूटने लगते है। बस इसी वजह से उंगलियां चटकाने पर आवाज़ आती है। इसके अलावा भी ये फ्लूइड हड्डियों में एक प्रकार से ग्रीसिंग का काम करता है। आपको बता दें की बार-बार उंगलियां चटकाने से इसका लिगामेंट कम होने लगता है और हड्डियां आपस में रगड़ने लगती है। इस कारण से हड्डियों में काबर्न डाई ऑक्साइड भरने लगता है और फिर जोड़ो में दर्द होना शुरू हो जाता है, इसी कारण से गठिया होता है। बस इसलिए बार-बार उंगलियां नहीं चटकाना चाहिए। उंगलियां चटकाने से उंगलियों के जोड़ो पर जोर बढ़ता है और फिर जोड़ खराब होने लगते है, जॉइंट और लिगामेंट भी डैमेज होते हैं। अगर आपका यूरिक एसिड बड़ा हुआ है तो फिर जोड़ औऱ ज़्यादा डैमेज होने लगते है।

गठिया हो सकता है

उंगलियां चटकाने की आदत लगने से आप बार-बार उंगलियां चटकाते है इससे आर्थराइटिस हो सकता है। बार-बार उंगलियां चटकाने पर उनके बीच में होने वाला लिक्विड कम होने लगता है और फिर जोड़ो में दर्द शुरू हो जाता है इससे गठिया होता है।

सूजन आ जाती है

उंगलियां चटकाने से जोड़ो में सूजन आ सकती है और ये इतनी बड़ सकती है कि बस छूने से ही दर्द होने लगता है।

सॉफ्ट टिश्यूज में आ सकती है सूजन

उंगलियां चटकाने से हाथों में मौजूद सॉफ्ट टिश्यूज में सूजन आ सकती है। जो लोग उंगलियां चटकाने की आदत लगा लेते है उनकी हड्डियां कम उम्र में ही कमजोर होने लगती है।

Also Read – साबूदाना का सेवन सेहत के लिए सही रहता है या नहीं? जाने इसकी ख़ास बातें