हैदराबाद: पुलिस एनकाउंटर को किसी ने बताया सही तो किसी ने उठाए सवाल

शुक्रवार अलसुबह हैदराबाद पुलिस ने हैवानियत करने वाले चारो आरोपियों को एनकाउंटर में मार गिराया है। आरोपियों की मौत पर डॉ के पिता ने ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा कि 'मेरी बेटी को न्याय मिल गया है।'

0
171
encounter

हैदराबाद: हैदराबाद में हुई हैवानियत के 10 दिन में पुलिस ने आरोपियों को सजा दे दी है। डॉ दिशा के साथ बलात्कार और जलाकर मार डालने वाली घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। शुक्रवार अलसुबह हैदराबाद पुलिस ने हैवानियत करने वाले चारो आरोपियों को एनकाउंटर में मार गिराया है। आरोपियों की मौत पर डॉ के पिता ने ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा कि ‘मेरी बेटी को न्याय मिल गया है।’

जानकारी के अनुसार पुलिस चरों आरोपियों को सीन रिक्रिएट कराने के लिए मौके पर ले गई थी, जहां से कोहरे का फायदा उठाकर उन्होंने भागने की कोशिश की। इस दौरान दोनों ओर से फायरिंग की गई। हैदराबाद पुलिस के इस कदम से कुछ लोग एनकाउंटर पर खुशी जता रहे हैं तो वहीं कुछ लोग आरोपियों के एनकाउंटर पर सवाल खड़े कर रहे हैं।

एक यूजर ने लिखा, मुझे इन आरोपियों के साथ बिल्कुल भी सहानुभूति नहीं है लेकिन यह न्याय करने का कोई तरीका नहीं है। तेलंगाना पुलिस यह शर्मनाक है।

एक यूजर ने लिखा, मुझे भले ही ट्रोल किया जाएगा लेकिन न्याय का यह सही तरीका नहीं है। हमने पुलिस को आरोपियों पर गोली चलाने के लिए नहीं बल्कि ऐसे समाज की मांग की थी जिसमें महिलाएं सुरक्षित रह सके। इस एनकाउंटर से कुछ लोगों को खुशी मिलेगी लेकिन इससे समस्या खत्म नहीं होने वाली है।

एक यूजर ने लिखा, अब कोई तारीख पर तारीख नहीं होगी। यह सबके लिए खुशखबरी है। इस यूजर ने एनकाउंटर करने वाले पुलिस अफसर को पूरे देश का हीरो बताया है। वहीं तहसीन पूनावाला ने लिखा, संसद के भीतर कुछ सांसद रेप आरोपियों की पब्लिक लिचिंग करने की मांग करते हैं और बाहर पुलिस एनकाउंटर कर देती है। व्यवस्था दुरुस्त करने के बजाय पुलिस एनकाउंटर कर रही है। व्यवस्था पूरी तरह से खत्म हो चुकी है और हम कानूनविहीन देश की तरफ आगे बढ़ रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here