गुजरात के वडोदरा में दिवाली की रात अचानक दो समुदाय के लोग आपस में भिड़ गए, जिससे देखते ही देखते पत्थरबाजी, आगजनी और तोड़फोड़ होने लगी। ये हिंसा रात 12.30 बजे से लेकर 1 बजे तक हुई है। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। दरअसल, वडोदरा के पानी गेट इलाके में पटाखे फोड़ने को लेकर दो समुदाय के बीच भिड़ंत हो गई। इसके बाद दोनों पक्षों बीच बवाल इतना बढ़ गया कि पत्थरबाजी होने लगी। हिंसक झड़प के दौरान कई दुकानों और गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया, वहीं जमकर तोड़फोड़ की गई. इतना ही नहीं, पेट्रोलिंग पर पहुंची पुलिस पर भी पेट्रोल बम से हमला किया गया।

बदमाशों के हौसले इतने बुलंद थे कि वे पुलिस के सामने पेट्रोल बम फेंक रहे थे। वडोदरा पुलिस के डीसीपी अभय सोनी ने कहा कि अब तक इस हिंसा में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस सीसीटीवी की जांच कर रही है। बदमाश स्ट्रीट लाइट बुझाकर बवाल कर रहे थे। शहर के मुस्लिम मेडिकल संटेर के पास पटाखे उड़ाने को लेकर हुई हिंसक झड़प में न केवल पत्थरबाजी हुई, बल्कि गाड़ियों और दुकानों में भी तोड़फोड़ की गई और आगजन की गई। पुलिस ने बताया कि इसके बाद इलाके के सभी घरों में कॉम्बिंग की जा रही है।

Also Read – Surya Grahan 2022: सूर्य ग्रहण में क्या होता है सूतक काल? जानें भारत के सभी राज्यों में इसका समय

फिलहाल, पुलिस की भारी मौजूदगी के बाद मामले को शांत करा दिया गया है। पुलिस ने दंगा के मामले में मुकदमा दर्ज किया है और दंगा करने वालों की भी शिनाख्त की जा रही है। डीसीपी यशपाल जगनिया ने बताया कि पानीगेट में मुस्लिम मेडिकल सेंटर के पास पथराव की घटना हुई है। पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और कार्रवाई की। स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है. सीसीटीवी की जांच की जा रही है और चश्मदीदों से पूछताछ की जा रही है।