सरकार झुकेगी, उठाओ महंगाई के खिलाफ आवाज- दिग्विजय सिंह

Digvijay singh

नेमावर/खातेगांव। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) बुधवार शाम को देवास जिले के नेमावर पहुंचे, जहां उन्होंने जन संवाद कार्यक्रम में हिस्सा लिया और जनता से सीधा संवाद स्थापित किया। जनता ने बढ़ती पेट्रोल की कीमतों पर खुलकर आवाज़ उठाई। वे नेमावर में गुरुवार सुबह प्रभात फेरी में शामिल हुए। लगभग 3300 किलोमीटर की पैदल नर्मदा परिक्रमा कर चुके पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह, नेमावर के नागर घाट पहुंचे जहां उन्होंने विधि विधान से नर्मदा जी का पूजन किया। वे नागर घाट पर स्थित प्राचीन सिद्धेश्वर महादेव मंदिर भी पहुंचे जहां उन्होंने भगवान शिव का विधिवत पूजन किया।

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने नेमावर में इंदिरा गांधी जी की जयंती पर उनके चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की और जन जागरण अभियान के अन्तर्गत विंग कमांडर रहीं अनुमा आचार्य द्वारा निकाली जा रही जन संवाद पदयात्रा का शुभराम्भ किया। अनुमा आचार्य विदिशा लोकसभा के नेमावर से बाड़ी तक लगभग 275 किलोमीटर की पद यात्रा करेंगी जिसमें वे मौजूदा केंद्र सरकार व राज्यसरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ जनता को जागृत करेंगी। पूर्व सैनिक अनुमा आचार्य के साथ राजगढ़ से कांग्रेस नेत्री मोना सुस्तानी व मेजर रहे श्याम श्रीवास्तव के साथ अन्य पूर्व सैनिक भी मोदी सरकार के खिलाफ चलाये जा रहे जन जागरण अभियान के अंतर्गत पद यात्रा में शामिल हुए।

ALSO READ: Indore News: आयुक्त पाल की उदारता, राष्ट्रपति भवन में जाएंगी “इंदिरा”

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने पदयात्रा के दौरान नेमावर में राजपूत समाज की धर्मशाला के भवन का लोकार्पण किया। पूर्व सीएम जब पैदल नर्मदा परिक्रमा के दौरान नेमावर आये थे तब उन्होंने सांसद निधि से राजपूत समाज की धर्मशाला के लिए 5 लाख रुपये की राशि राजपूत समाज सेवा समिति को प्रदान की थी। कांग्रेस के ज़मीनी नेता दिग्विजय सिंह की खास बात ये है कि जिस वक्त उन्होंने राजपूत समाज के भवन निर्माण के लिए राशि स्वीकृत की थी तब वे नर्मदा परिक्रमा पर पैदल यात्रा पर थे और भवन के लोकार्पण के समय भी वे पदयात्रा पर हैं।

मोदी के तीनों कृषि कानून वापस लेने वाले बयान पर मीडिया से चर्चा करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि ये लोकतंत्र की जीत है ये किसानों द्वारा संगठित होकर किये गए सतत आंदोलन की जीत है।

नेमावर में पद यात्रा के दौरान ग्राम पंचायत लवरास में एक बीजेपी नेता ने दिग्विजय सिंह से कहा कि वे हमेशा कांग्रेस के 70 साल के शासन काल का विरोध करते आये हैं लेकिन जब उन्होंने सब जानकारी जुटाई तो उन्हें पता लगा कि कांग्रेस ने तवा डेम से रातातलाई तक नहर ला दी वो भी गेती-फावड़े से। और वही काम एक 20 किलोमीटर के एरिया में इरिगेशन का चल रहा है जो उससे बहुत छोटा काम है वो पांच साल में पूरा नही हुआ जबकि अभी टेक्नोलॉजी बढ़ी है। ये फर्क है 70 साल और 7 साल में। बीजेपी नेता ने दिग्विजय सिंह से खुलकर कहा कि महँगाई चरम पर है जिसका कड़ा विरोध विपक्षी पार्टियों को एकजुट होकर करना चाहिए। दिग्विजय सिंह ने अपनी ही पार्टी के जन विरोधी फैसलों के खिलाफ आवाज़ उठाने वाले भाजपा नेता के साहस की सराहना की और उन्हें धन्यवाद भी दिया। श्री सिंह ने कहा कि यही जागरूकता हमारे जन जागरण अभियान की सार्थकता है।

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह नेमावर से कृष्ण नगर, दुलवा, लवरास एवं वारछा बुजुर्ग होते हुए 16 किलोमीटर की पदयात्रा कर खातेगांव पहुंचे। जहां उन्होंने जनसंवाद कार्यक्रम में उपस्थित जन समुदाय को संबोधित किया।