kamalnath

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा आज जयपुर में अ.भा.कांग्रेस कमेटी द्वारा आयोजित महंगाई हटाओ महारैली में दिये गये सम्बोधन के प्रमुख बिंदु –

-बहुत खुशी हुई आज इस रैली में आकर ,आज देश के हर कोने से कांग्रेसजन इस रैली में आये है।आपने यहाँ आकर कांग्रेस का मान-सम्मान बढ़ाया है।आपने यहाँ आकर कांग्रेस को बल शक्ति दी है।
आपने आज देश को संदेश दिया है।
-आप हमारे देश की संस्कृति पर विश्वास रखते हैं।हमारी कांग्रेस की जो संस्कृति हैं , वही देश की संस्कृति है।हम दिल जोड़ते हैं ,संबंध जोड़ते हैं ,रिश्ता जोड़ते हैं ,हर समाज ,हर धर्म को जोड़कर रखते हैं।
-आजादी के संघर्ष के बाद बाबासाहेब अंबेडकर जी ने अपने देश को संविधान दिया , अपने देश को ही नही बल्कि पूरे विश्व को संविधान दिया।उस देश को संविधान दिया , जिसमें इतने धर्म है , इतनी जातियां हैं, इतनी भाषाएं है ,इतने देवी देवता ,इतने रस्म ,रीति-रिवाज है।इसलिए आज हम सब एक झंडे के नीचे खड़े हैं ,यह हमारे देश की महानता है।आज पूरा विश्व हमारे देश की ओर देखता है कि इतनी विभिन्नताओ के बावजूद आज हम एक झंडे के नीचे कैसे खडे है ?
-आज हमारी संस्कृति पर आक्रमण हो रहा है।हमें देखना पड़ेगा कि हम कौन से रास्ते पर चलना चाहते हैं।देश की संस्कृति के रास्ते पर चलना चाहते हैं या मोदी की संस्कृति के रास्ते पर ? आज सबसे बड़ी चुनौती यही हमारे सामने है।
-देश की यही तस्वीर आज आपके सामने है।

Also Read – Corona: कोरोना के मामलों में गिरावट का दौर जारी, 24 घंटे में दर्ज हुए 7 हजार नए मामले

-आज हमारा बेरोजगार नौजवान ,भटकता नौजवान ,जो हमारे देश के भविष्य का नवनिर्माण करेगा ,आज भटक रहा है।आज इसका भविष्य अंधेरे में है।
-आज के नौजवान और 20 साल पहले के नौजवान में बड़ा अंतर है।आज के नौजवान में एक तड़फ है।वह चाहता है कि उसे रोजगार का मौका मिले।
-आज किसानों की स्थिति सभी के सामने है।आज वो परेशान है।हमारे देश की अर्थव्यवस्था कृषि क्षेत्र पर आधारित है।यह हमे कभी नहीं भूलना चाहिए कि किसानों की क्रय शक्ति बढ़ेगी , तभी देश की अर्थव्यवस्था बढ़ेगी।
-आज कृषि क्षेत्र का क्या हाल है ,महिलाओं पर अत्याचार हो रहे है ,छोटे व्यापारियों की आज क्या स्थिति है ?
-आज नौजवान बिना काम का , किसान बिना दाम का ,छोटा व्यापारी बिना व्यापार का तो फिर मोदी जी आप किस काम के ?
-पिछले 7 साल में मोदी जी ने कितनी लंबी चौड़ी बात की।कोरोना को लेकर यह लोग कितने बड़े- बड़े दावे किया करते थे।
-मैं मुक्तिधाम -कब्रिस्तान के आंकड़े बता रहा हूं।किस प्रकार इन्होंने आँकड़े दबाने-छुपाने का काम किया।हमारे देश में कोरोना से कितने लोगों की मौते हुई।
हमारे मध्य प्रदेश में ही ढाई लाख लोगों की मौत हुई और सरकार सिर्फ़ 10 हज़ार की मौत बता रही है।यह दबाने-छुपाने की राजनीति को हमें पहचाना होगा।
-हमारे देश के किसान भाइयों ने जो संघर्ष किया , वह हम सभी के सामने है।मोदी जी तीन कृषि क़ानून लाये।पूरे एक वर्ष किसानों का संघर्ष चला ,700 किसान शहीद हो गए लेकिन मोदी जी तक आवाज नही पहुँची।
-मोदी जी इन क़ानूनों को किसानों के हित में बताते रहे ,जबकि किसान कहते थे कि यह हमारे हित में नहीं है ,आप हमारे हित की चिंता मत करो , इसे वापस लो।पर मोदी जी को बेरोजगार नौजवान नहीं दिखता है ,किसान की आवाज सुनाई नहीं देती है ,उनके तो कान नही चलते , आँख नही चलती , उनका तो सिर्फ़ मुंह चलता है।
-आज हमारे सामने यही तस्वीर है।
-आज लोग कहते हैं कि कांग्रेस में क्या बचा है ? हमने तो 1977 का दौर भी देखा है , इंदिरा गांधी जी की सरकार चली गयी थी , वापस ढाई साल बाद 314 सीट लेकर देश में कांग्रेस सरकार बनी।
-मैंने तो वह समय भी देखा है , जब बीजेपी की लोकसभा में मात्र 2 सीटें थी।हम ढूंढते थे कि बीजेपी के वो दो लोग कौन है ?
-कांग्रेस ने बहुत संघर्ष किया है ,हमने बहुत क़रीब से देखा है।
-कांग्रेस ने तो आजादी का संघर्ष भी देखा है और हमने देश के लिए लड़ाई लड़ी है।
-आप लोगों ने कांग्रेस का झंडा लेकर कांग्रेस को हमेशा मजबूती दी है।
-आज हम सोनिया जी के नेतृत्व में खड़े है ,हमने राजीव जी जी के नेतृत्व में भी लड़ाई लड़ी है।
-यहाँ उपस्थित आप सभी ने अगर ठान लिया तो कोई नही रोक सकता है कांग्रेस को 2024 में ,देश की लोकसभा में वापस कांग्रेस का झंडा लहरायेगा।
नरेन्द्र सलूजा