उत्तर प्रदेश में भी लागू होगा सम-विषम नियम! पर्यावरण मंत्री ने दिए संकेत

0
61
Pollution

लखनऊ। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्रदूषण लगातार बढ़ता जा रहा है, वहीं अब इसका असर अब उत्तर प्रदेश के कई शहरों में भी देखने को मिल रहा है। ऐसे में दिल्ली की तर्ज पर यूपी में सम-विषम नियम लागू किया जा सकता है। राज्य के पर्यावरण मंत्री दारा सिंह चौहान ने कहा है कि ये नियम प्रदेश के कुछ शहरों में भी लागू हो सकता है। गौर हो दिल्ली में भी प्रदूषण के चलते सम-विषम नियम लागू किया गया है।

चौहान ने कहा कि जिन जिलों में वायु प्रदूषण बढ़ता जा रहा है, वहां भी सम-चिषम नियम लागू किया जाना चाहिए। इसके बारे में हम सोच सकते हैं। उन्होने कहा कि अगर राज्य सरकार और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से उठाए गए कदम बढ़ रहे वायु प्रदूषण से निपटने में असफल रहती है तो हम एक व्यापक योजना बनाएंगे।

बता दे कि दिल्ली से सटे नोएडा और गाजियाबाद के अलावा लखनऊ में भी प्रदूषण का स्तर बढ़ा है। लखनऊ में प्रदूषण से लोगों को कई दिक्क्तों का सामना करना पड़ रहा है। यहां के अस्पतालों में सांस के मरीजों की भीड़ लगी है।

बढ़ रही सांस के मरीजों की संख्या

बता दे कि बीते दो दिनों में अस्पताल पहुंचे कुल मरीजों में से 25 फीसदी मरीजों को सांस की समस्या थी। लखनऊ के लोहिया अस्पताल, किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय (केजीएमयू) और सिविल अस्पताल की ओपीडी में मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है। केजीएमयू में पंहुचे 42 मरीजों को सांस की समस्या थी, वहीं लोहिया अस्पताल में ऐसे 36 मरीज थे। बलरामपुर सिविल अस्पताल में भी सांस की समस्या के मरीजों की संख्यां बीते तीन दिनों के मुकाबले अधिक रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here