बिजली विभाग का रिकॉर्ड, एक माह में एकत्रित किया 825 करोड़ रूपए का राजस्व

0
36
narval

इंदौर। मप्रपक्षेविविकं ने एक माह के दौरान अब तक का सबसे ज्यादा राजस्व संग्रहण कर रिकार्ड बनाया हैं। कंपनी के प्रबंध निदेशक विकास नरवाल ने बताया कि 30 नवंबर की शाम की स्थिति में कंपनी ने एक माह में 825 करोड़ रूपए का राजस्व एकत्रित किया हैं। यह अब तक किसी भी माह के दौरान कंपनी के इतिहास में प्राप्त सबसे ज्यादा राशि हैं।

प्रबंध निदेशक विकास नरवाल ने बताया कि कंपनी ने रबी सीजन के दौरान किसानों से एफआरटी यानि अंशदान वसूलने, घरेलू उपभोक्ताओं से शत प्रतिशत देयकों के संग्रहण, औद्योगिक उपभोक्ताओं से पूरी वसूली एवं गैर घरेलू उपभोक्ताओं के बिलों की अदायगी के साथ ही पुराने बकायादारों से राशि एकत्रित करने का वृहद अभियान चलाया था। इस अभियान में कंपनी क्षेत्र के 10 हजार कर्मचारियों की प्रत्येक्ष एवं परोक्ष भागीदारी तय की गई थी।

नरवाल ने बताया नवंबर माह में ही कंपनी ने एक दिन में पौने नौ करोड़ यूनिट बिजली वितरण का भी रिकार्ड बनाया हैं। उन्होने बताया कि ज्यादा बिजली वितरण एवं उसी के अनुरूप राजस्व संग्रहण कर कंपनी को अखिल भारतीय स्तर पर ए प्लस श्रेणी की बनाने के सघन प्रयास चल रहे हैं।

नरवाल ने नवंबर माह में 825 करोड़ राजस्व संग्रहण को सभी कर्मचारियों, अधिकारियों के समर्पण का प्रतिफल निरूपित किया हैं, उन्होंने उम्मीद जताई कि इसी तरह के प्रदर्शन से कंपनी अगली बार जरूर ए प्लस रेटिंग प्राप्त कर देश में सबसे अव्वल आएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here