देशमध्य प्रदेश

नए साल में इंदौर, उज्जैन शहर में बढ़ी बिजली मांग

इंदौर : नए वर्ष में इंदौर व उज्जैन शहर में बिजली मांग में सतत बढ़ोत्तरी की स्थिति है। इंदौर शहर में मांग बीस मैगावाट बढ़ी है, वही उज्जैन में मांग 10 मैगावाट तक बढ़ी है। मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध निदेशक श्री अमित तोमर ने बताया कि इंदौर शहर में अधिकतम मांग पिछले साल की तुलना में जनवरी में औसतन बढ़कर 380 मैगावाट से 400 मैगावाट पहुंच गई है।

इसी तरह उज्जैन शहर में 10 मैगावाट की बिजली मांग बढ़कर 90 मैगावाट तक पहुंच गई। श्री तोमर ने बताया कि जनवरी माह में इंदौर शहर में रोज औसतन 70 लाख यूनिट बिजली वितरित हो रही है, यह पिछले साल 67 लाख यूनिट थी। इसी तरह उज्जैन शहर में इस वर्ष जनवरी में औसतन 11.50 लाख यूनिट बिजली वितरित हो रही है, यह पिछले वर्ष जनवरी में 10.50 लाख यूनिट प्रतिदिन थी। श्री तोमर ने बताया कि मालवा क्षेत्र के सबसे बड़े इन दोनों शहरों में आपूर्ति की प्रतिदिन जानकारी अधीक्षण यंत्री श्री कामेश श्रीवास्तव इंदौर एवं श्री आशीष आचार्य उज्जैन से प्राप्त की जा रही है।

सतत ले रहे फीडबैक
मुख्य महाप्रबंधक श्री संतोष टैगोर ने बताया कि ऊर्जांमंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर एवं प्रबंध निदेशक श्री अमित तोमर के निर्देशानुसार इंदौर एवं उज्जैन शहर के उपभोक्ताओं से फोन से संवाद कर आपूर्ति संबंधी संतुष्टि का फीडबैक लिया जा रहा है। दोनों ही शहरों के करीब 98 फीसदी उपभोक्ता आपूर्ति व्यवस्था से संतुष्ट है।