जिम्बाब्वे के कामर्स व उद्योग मंत्रालय में भारतीय मूल के डिप्टी मिनिस्टर राज मोदी (Raj Modi) सोमवार को इंदौर के 56 दुकान पर पहुंचे. यहां उन्होंने इंदौर की खास 56 दुकान की विशेष भारतीय व्यंजनों का स्वाद लिया और शहर की जनता से रूबरू हुए. इस दौरान चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग भी उपस्थित रहें. दरअसल, इंदौर में प्रवासी भारतीयों के लिए शहर की जनता दिल खोलकर प्यार लूटा रही है. वहीं शहर में पधारें मेहमान भी जनता का स्नेह आत्मसात कर रहे हैं. इसी कड़ी में कई भारतीय मूल के प्रवासी सोमवार रात इंदौर के विभिन्न बाजारों में पहुंचे. वहीं इस दौरान गुजरात के केवड़िया जिले के रहने वाले राज मोदी जिम्बाब्वे में भारतीय मूल के पहले मंत्री हैं जो 56 दुकान पहुंचे.

जिम्बाब्वे के मंत्री ने किया सीएम का धन्यवाद

यहां एसोसिएशन के सदस्यों द्वारा मंत्री राज मोदी का स्वागत किया गया और उनके सामने 56 दुकान के विशेष व्यंजनों को परोसा गया. वही मंत्री राज मोदी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद अर्पित किया उन्होंने कहा कि इंदौर शहर में प्रवासी भारतीयों की विशेष व्यवस्था के लिए मध्य प्रदेश के सीएम का धन्यवाद साथ ही उन्होंने कहा कि हमने इंदौर सराफा, 56 दुकान, खजराना गणेश मंदिर, पित्र पर्वत और उज्जैन महाकाल लोक को नजदीक से देखा है. यहां की स्वच्छता व मेहमान नवाजी से मैं अभिभूत हूं. इंदौर में स्वच्छता के लिए जिस तकनीक का उपयोग किया जा रहा है उसे जिम्बाब्वे में भी लागू करवाने का प्रयास करूंगा.

यूएसए से आये मेहमान भी पहोचे 56 दुकान

वहीं इस दौरान यूएसए से आई डॉक्टर उमा जगलाडा पहली बार मध्य प्रदेश प्रवासी भारतीय सम्मेलन में शामिल होने पहुंची. उन्होंने बताया कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए उद्बोधन में जिस तरह से इंदौर शहर के खानपान की तारीफ की गई. इसके बाद उनसे रहा नहीं गया और वह भी इंदौर 56 दुकान पर पहुंची और उन्होंने यहां के व्यंजनों का जायका लिया और कहा की वाकई इंदौर स्वाद की राजधानी है.

Read More : प्रवासी भारतीय सम्मेलन LIVE: सभी मेहमानों की हुई कोरोना जांच, एक भी रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं