Corona Vaccine: इस महीने आ जाएगी बच्चों की वैक्सीन, ICMR निदेशक ने दी जानकारी

देश में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए अब बच्चों की वैक्सीन जल्द बनवाई जा सकती हैं। अब तक बच्चों की वैक्सीन का सभी को बेसब्री से इंतजार हैं। ऐसे में कहा जा रहा है कि जल्द ही भारत में बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन आ सकती हैं। संभावना सितंबर जताई जा रही हैं।

बता दे, इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी की निदेशक प्रिया अब्राहम ने बताया है कि भारत में सितंबर तक बच्चों के लिए एक स्वदेशी कोविड -19 वैक्सीन आने की संभावना है।

उन्होंने आगे बताया है कि 2-18 आयु वर्ग के बच्चों के लिए लिए कोवैक्सीन के चरण 2 और 3 के परीक्षण चल रह हैं। साथ ही ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि कोवैक्सीन के ट्रायल परिणाम जल्द ही उपलब्ध हो जाएंगे। प्रिया अब्राहम ने यह बात एक ओटीटी चैनल को दिए इंटरव्यू में कही।

जानकारी के मुताबिक, देश औषधि महानियंत्रक ने जनवरी में देश में कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ने के लिए आपातकालीन उपयोग के लिए कोवैक्सीन को मंजूरी दी थी। वहीं Zydus Cadila की वैक्सीन DNA आधारित है और यह अपने तरह की पहली कोरोना वैक्सीन है।

ऐसे में जेनोवा बॉयो फार्मास्यूटिकल लिमिटेड की एम-आरएनए वैक्सीन, बॉयोलॉजिकल-ई वैक्सीन, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की नोवावैक्स अपने परीक्षण के दौर में हैं। इसके अलावा भारत बॉयोटेक की ओर से बनाई जा रही कोरोना वैक्सीन को बच्चों में नाक के जरिए दिया जाएगा। इसे इंजेक्शन के जरिए नहीं दिया जाएगा।