चीन सहित कई देशों में कोरोना (Corona) से हड़कंप के बाद भारत में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है. देश के अलग अलग राज्यों से निरंतर इनफ़ेक्शन के मामले सामने आ रहे हैं. मध्यप्रदेश के इंदौर (Indore) में शनिवार को एक ही परिवार के चार सदस्य कोरोना वायरस से संक्रमित (infected with corona virus) पाए गए हैं. उनके नमूने जीनोम सीक्वेंसिंग (genome sequencing) के लिए भेजे गए हैं. इसी के साथ प्रदेश में वर्तमान में उपचाराधीन मरीजों (patients under treatment) की संख्या बढ़कर पांच हो गई है. पांचवां मरीज जबलपुर में है.

जिला निगरानी अधिकारी डॉ. अमित मालाकार ने पीटीआई-भाषा को बताया कि अग्रवाल नगर कॉलोनी में रहने वाले 45 वर्षीय एक व्यक्ति, उसकी पत्नी (42) और उनकी 12 और सात साल की दो बेटियां कोविड वायरस से इंफेक्टेड पाए गए हैं. उन्होंने कहा कि खांसी और सर्दी की समस्या के बाद उनके नमूने जांच के लिए भेजे गए थे, जिसमें वे चारों कोरोना संक्रमित पाए गए. उनकी जांच के रिजल्ट शनिवार को प्राप्त हुए. इन चारों के नमूने जीनोम अनुक्रमण के लिए भेजे गए हैं. मालाकार ने बताया कि हमारी टीम उनके संपर्क में आए लोगों का पता लगा रही है.

Also Read – Airtel का धमाकेदार ऑफर! मात्र 1500 में नॉर्मल TV को बनाएं स्मार्ट

कोरोना वायरस के संक्रमण के सामान्य लक्षण
बुखार
थकान
सुखी खासी
नाक का बंध होना
गले कि खराश
सांस लेने मे कठिनाई

साथ ही कोरोना वायरस की चौथी लहार से बचने के लिए आप अपने हाथों को समय-समय पर धोते रहें. समय-समय पर साबुन और पानी से हाथ धोएं. या आप चाहें तो एक अल्कोहॉल बेस्ड सैनेटाइज़र भी उपयोग कर सकते हैं. सैनेटाइज़र को हाथों पर अच्छी तरह लगाएं. इससे अगर आप के हाथ पर वायरस मौजूद हुआ भी तो समाप्त हो जाएगा। साथ ही आप अपनी आंखों को छूने से बचें, नाक और मुंह पर भी हाथ लगाने से बचें. हम अपने हाथ से कई सतहों को छूते हैं और इस बीच संभव है कि हमारे हाथ में वायरस न उपस्थित हो . अगर हम उसी अवस्था में अपने नाक, मुंह और आंख को छूते हैं तो वायरस के शरीर में प्रवेश की आशंका बढ़ जाती है.

सुझाव- इन सावधानियों को बरतनें से आप कोरोना वायरस के संक्रमण से बहुत हद तक बच सकते हैं. लेकिन सेफ्टी के लिए मास्क लगा कर घर से बाहर न निकलें।